दहेज के लिए महिला को जलाया

2014-06-27T07:01:22Z

- आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर लगाया जाम

- मां की हालत बिगड़ी, बच्चे भी हुए महिला थाने में बेहोश

- काफी देर चले हंगामें के बाद मिला कार्रवाई का आश्वासन

Meerut: दहेज न देने के खातिर ब्रह्मपुरी में महिला की ससुरालियों ने जलाकर हत्या कर दी। जैसे ही इसकी जानकारी परिजनों को लगी वे तुरंत ससुराल पहुंचे और हंगामा करना शुरू कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाकर परिजनों को शांत कराया। वहीं दोपहर में परिजनों ने ब्रह्मपुरी पुलिस पर हत्यारोपियों का साथ देने का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया।

क्या है मामला

माधवपुरम सेक्टर एक की रहने वाली ममता पुत्री केवल सैनी की शादी क्ख् साल पहले ब्रह्मपुरी एरिया के शिव शक्ति नगर में रहने वाले मनोज सैनी से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही मनोज, देवें और सोनू दहेज के लिए ममता का उत्पीड़न करते रहे। रोज-रोज पिटाई से परेशान ममता मायके आकर भी रहने लगी। गली मोहल्ले और रिश्तेदारों की पंचायत के बाद ममता समझौते के बाद ससुराल चली गई, लेकिन फिर भी ससुराल वाले उत्पीड़न करते रहे।

देवरों ने भी पीटा

दहेज लाने से इंकार किया तो पिटाई गुरुवार सुबह दहेज को लेकर पहले मनोज ने अपने भाई देवेंद्र और सोनू के साथ ममता की पिटाई की। ममता ने जब दहेज लाने से साफ इंकार कर दिया तो मिट्टी का तेल डालकर आग लगाकर जला दिया। इसकी जानकारी लेकर बेटी करिश्मा पैदल ही अपनी नानी कांता के घर पहुंची और मामले की जानकारी दी। परिजन मौके पर पहुंचे और अपनी बेटी को जला हुआ देखा तो उनके हाथ पांव फूल गए। ब्रहमपुरी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। वहीं मायके पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने पति और दोनों देवर के खिलाफ मुकदमा कायम कर लिया है।

महिला थाने पर हंगामा

अपनी बेटी की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। मां कांता काफी संख्या में अपने रिश्तेदारों और आस पड़ोसी के साथ महिला थाने पहुंची। सड़क पर जाम लगाकर ब्रहमपुरी पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। महिला दारोगा और कांस्टेबल ने जाम खुलवाने का प्रयास किया। लेकिन परिजन नहीं माने और सड़क पर ही हंगामा करना शुरू कर दिया। बाद में काफी मशक्कत के बाद जाम खुला फिर महिला थाने में हंगामा खड़ा कर दिया। ममता की बेटी करिश्मा, परी और बेटे ऋतिक यहां परेशान थे और अपने पिता के खिलाफ कार्रवाई की मांग के लिए आए थे। इस दौरान करिश्मा की हालत बिगड़ गई, पानी पिलाने के बाद ही करिश्मा को होश आया। कांता का आरोप था कि ब्रहमपुरी एसओ और दारोगा आरोपियों से मिल गए हैं। उन्होंने पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की साथ ही जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए कहा।

मामला संज्ञान में है। महिला की जलाकर हत्या की दी गई। पति मनोज, देवर देवेंद्र और सोनू के खिलाफ मुकदमा कायम कर लिया गया है, जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

-परशुराम यादव

इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.