दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री केजरीवाल पर स्‍याही फेंकने वाली महिला की आज होगी पेशी

2016-01-18T09:22:00Z

कल दिल्‍ली में सम विषम फॉर्मूले को सफल बनाने के लिए धन्‍यवाद रैली में पंहुचे दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल उस समय स्‍तब्‍ध रह गए जब एक महिला ने उन पर स्‍याही फेंकने का प्रयास किया। पुलिस ने महिला को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया और आज उसे अदालत में पेश किया जायेगा।

सीएनजी घोटाले का खुलासा करने का दावा
सम-विषम फॉर्मूले की सफलता पर जनता को धन्यवाद देने के लिए रविवार को छत्रसाल स्टेडियम में दिल्ली सरकार की ओर से आयोजित कार्यक्रम में एक युवती ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर स्याही फेंक दी। स्याही की कुछ छीटें उनके आसपास खड़े सुरक्षाकर्मियों पर भी पड़े। युवती को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। उसका नाम भावना अरोड़ा है। खबर है कि वह पंजाब में आम आदमी सेना की प्रभारी है और द्रिलली के रोहिणी में रहती है। भावना को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। उसने दावा किया है कि वो अदालत में सीएनजी घोटाले में दिल्ली सरकार की संलिप्तता के प्रमाण पेश करेगी।  
केजरीवाल ने किया महिला को छोड़ने का आग्रह
स्याही फेंकने के बाद केजरीवाल समर्थकों ने युवती को पकड़ लिया और उससे मारपीट करने पर उतारू हो गए। हांलाकि केजरीवाल ने उसे छोड़ देने का आग्रह किया, और कहा कि वो जो कागजात देना चाहती है उन्हें स्वीकार कर लिया जाए। इसके बाद वे पुन अपना धन्यवाद भाषण पूरा करने मंच पर आ गए। बाद में आम आदमी पार्टी के वालंटियर्स, होमगार्ड व सिविल डिफेंस के लोगों ने बड़ी मुश्किल से उसे स्टेडियम के आपातकालीन गेट तक पहुंचाया। वहां खड़े पुलिसकर्मी युवती को स्टेडियम से बचाकर बाहर ले गए। भावना ने दिल्ली सरकार पर सम-विषम फॉर्मूला के दौरान सीएनजी स्टीकर आवंटन में घोटाले का आरोप लगाया है।

स्टिंग के जरिए सबूत जुटाने का दावा
युवती ने दावा किया कि उसने सम-विषम के दौरान स्कूटर नंबर प्लेट पर सीएनजी किट सर्टिफिकेट दिए जाने का स्टिंग किया है। यह कार्यक्रम दोपहर करीब तीन बजे शुरू हुआ था। शाम 4.50 बजे मुख्य वक्ता के रूप में केजरीवाल ने बोलना शुरू किया। उन्होंने कहा कि सम-विषम की सफलता से सिद्ध हुआ है कि दिल्ली के लोग अच्छे हैं। व्यवस्था खराब थी, नेता खराब थे। उन्होंने कहा कि डंडा चलाकर सम-विषम फॉर्मूले को लागू कराना हमारा मकसद नहीं था। हम लोगों का दिल बदलना चाहते थे। वह हमने किया। उन्होंने कहा कि इस पूरी मुहिम में यातायात पुलिस व दिल्ली पुलिस ने बहुत अच्छा काम किया।
भाजपा और सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल
केजरीवाल छह मिनट ही बोल पाए थे कि इसी बीच युवती को उनकी ओर आता देख सुरक्षाकर्मियों ने उसे घेर लिया, लेकिन वह केजरीवाल तक पहुंचने में सफल रही और उनपर स्याही फेंक दी। इस प्रकरण पर आप और भाजपा के बीच आरोप प्रत्यारोप की लड़ाई शुरू हो गयी है। दिल्ली के उप मुखमंत्री आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने कहा है कि उन्हें इस सारे मामले से भाजपा के षड़यंत्र की महक आ रहीहै। जिसमें उसे दिल्ली पुलिस का सहयोग मिल रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े किए। सिसोदिया ने कहा कि कैसे सुरक्षा घेरे को तोड़ कर महिला मुख्यमंत्री तक पंहुची, उसने स्याही ही फेंकी, मगर मंच पर उस समय पूरी कैबिनेट मौजूद थी और महिला के पास तेजाब या बॉम्ब भी हो सकता था।

inextlive from India News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.