ब्रह्मांड मे एलियंस का रहस्‍य खोजेगी विश्‍व की सबसे बड़ी दूरबीन

Updated Date: Mon, 26 Sep 2016 12:30 PM (IST)

वैज्ञानिकों का मानना है कि ब्रह्मांड मे पृथ्‍वी के अलावा भी कई ग्रहों पर जीवन है। ग्रहों पर जीवन की खोज मे नासा सहित कई एजेंसियां अपने रोबोट अंतरिक्ष मे भेजती रहती हैं। हाल ही मे चाइना ने एलियन खोजने की इस जद्दोजहद मे एक दुरबीन का निर्माण किया है। चाइना ने दावा किया है यह दूरबीन विश्‍व की सबसे बड़ी दूरबीन है। चाइना के इस प्रयोग को अमेरिकी खोजों की बराबरी समझा जा रहा है। चीन मे दक्षिण-पश्चिमी पहाडि़यों में स्थित दुनिया की सबसे बड़ी दूरबीन ने रविवार से काम करना शुरू कर दिया है।


एलियन द्वारा भेजे गए संकेत भी ग्रहण करेगी दूरबीनचीन के इस प्रोजेक्ट के मुताबिक ब्रम्हांड मे मानवता की मदद के लिए एलियंस के जीवन की खोजा की जाएगी। 500 मीटर व्यास की इस एकल एपर्चर रेडियो को दूरबीन विज्ञान के क्षेत्र में चीनी महत्त्वाकांक्षा का नतीजा माना जा रहा है। इस दूरबीन का नाम फाइव हंड्रेड मीटर एपर्चर स्फेरिकल टेलीस्कोप एफएएसटी रखा गया है। चीन मे गुइजोऊ की पहाड़ियों के बीच इस दूरबीन को लगाया गया है। इस दूरबीन ने काम करना शुरू कर दिया है। रेडियो दूरबीन में प्यूरतो रिको की एर्सिबो वेधशाला के मुकाबले सुदूर अंतरिक्ष से ना सिर्फ सिग्नल लेने की क्षमता है इसके साथ ही यह एलियन द्वारा भेजे गए संकेत भी ग्रहण कर सकती है।30 फुटबाल के मैदानों के बराबर है दूरबीन का आकार
चीन की सरकार ने इस दूरबीन को बनाने में 180 करोड़ अमेरिकन डॉलर खर्च किए हैं। प्यूरतो रिको में स्थित यह दूरबीन अब तक की सबसे बड़ी एर्सिबो ब्जरबेटरी में अपनी जगह बनाएगी। 30 फुटबाल मैदानों के बराबर जगह पर चीनी दूरबीन पित की गई है। एफएएसटी ब्रह्मांड के रहस्यों और अंतरिक्ष में जीवन के संकेतों को समझने और सुलझाने में मदद करेगी। चीन के इस अंतरिक्ष कार्यक्रम को देश की प्रगति के प्रतीक के रूप में देख जा रहा है। चीन 2020 तक स्थायी अंतरिक्ष स्टेशन बनाने की योजना बना रहा है। जिसके बाद चांद के लिए एक मानवयुक्त मिशन की भी योजना है। दूरबीन के निर्माण के लिए खाली कराया गया क्षेत्रएक वेबसाइट के अनुसार शुरुआत में अध्ययन छह विषयों पर केंद्रित होगा। इसमें आकाशगंगा की संरचना और तारों के निर्माण पर अध्ययन भी शामिल है। चीनी खगोलीय सोसायटी के महानिदेशक वू शिंगपिग ने बताया था कि दूरबीन की उच्च डिग्री संवेदनशीलता आकाशगंगा के बाहर जीवन खोजने में हमारी मदद करेगी। एफएएसटी को 2011 में बनाना शुरू किया गया था। स्थानीय अधिकारियों ने इस क्षेत्र से 10,000 लोगों को स्थानांतरित करना शुरू कर दिया था। इससे पहले भी बांध और नहरों के लिए चीन में हजारों लोगों को दूसरी जगहों पर बसाया जा चुका है। दूरबीन के आसपास का इलाका अपेक्षाकृत कम आबादी वाला है।

Weird News inextlive from Odd News Desk

Posted By: Prabha Punj Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.