योग ने दुनिया को किया एक राजनाथ

2018-06-22T06:00:59Z

- कहा, योग धर्म से जुड़ा होता तो 46 इस्लामिक देश न करते समर्थन

- राजभवन में राज्यपाल राम नाईक और सीएम योगी संग किया योग

LUCKNOW: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर राजधानी के राजभवन के लॉन में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संग योग किया। रंग-बिरंगी मैट्स पर पूरी तन्मयता के साथ शहर के बाशिंदों ने भी इसमें उनका साथ देकर योग की ताकत को स्वीकारा। इस अवसर पर राजनाथ ने कहा कि पहले लोग योग को किसी एक धर्म से जोड़ते थे, लेकिन अगर यह एक धर्म से जुड़ा होता तो उसे संयुक्त राष्ट्रसंघ में दुनिया के 177 देशों का समर्थन नहीं मिलता। इनमें 46 इस्लामिक देश हैं। योग का महत्व पूरी दुनिया में है और दुनिया के सबसे धनी देश अमेरिका में ढाई करोड़ लोगों ने योग को स्वीकार किया है।

मोदी ने दिलाई मान्यता

राजनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कल्चरल डिप्लोमेसी में अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हुई है। योग को पूरी दुनिया में मान्यता मिली है। यह मान्यता मोदी ने दिलाई है। योग का मनुष्य के जीवन से गहरा संबंध है। योग का ऋगवेद में उल्लेख मिलता है। पतंजलि योग सूत्र में इसकी व्याख्या है। उन्होंने कहा कि योग के रूप में अधिकृत रूप से मुख्यमंत्री योगी ही बता सकते हैं। वहीं राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि योग से स्वास्थ्य बेहतर होता है। शरीर के लिए यह अत्यंत उपयुक्त है। उन्होंने 84 वर्ष की उम्र में अपनी अच्छी सेहत का राज बताया। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि योग के अन्त:करण में भारत का अध्यात्म है। दवा पर खर्च होने वाला बजट का बड़ा हिस्सा योग के जरिये बचाया जा सकता है। प्रधानमंत्री के योग के आह्वान से जुड़ने का अनुरोध करते हुए कहा कि आप प्राणायाम करेंगे तो पाएंगे कि आपके अंदर नई ऊर्जा का संचार हो रहा है। आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने अतिथियों का स्वागत किया। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री डॉ। दिनेश शर्मा व मुख्य सचिव राजीव कुमार भी मौजूद थे।

बच्ची को योगी ने मंच पर बुलाया

श्रुति नाम की एक बच्ची मंच की ओर निहार रही थी। अचानक योगी की नजर बच्ची पर पड़ी और उसे मंच पर बुला लिया। उसे मुख्य सचिव राजीव कुमार के बगल में कुर्सी दी गई। मुख्य सचिव ने भी बच्ची का हौसला बढ़ाया। योग प्रशिक्षक के निर्देशों के अनुरूप बच्ची ने भी अतिथियों के साथ मंच से योग किया।

----

योगी की टीशर्ट पर निगाहें

गृहमंत्री राजनाथ सिंह सफेद टीशर्ट और काला लोअर जबकि राज्यपाल राम नाईक सफेद टीशर्ट-लोअर में योग करने पहुंचे थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने पारंपरिक लिबास में नहीं थे, लेकिन टीशर्ट पहनने के बावजूद उन्होंने भगवा रंग नहीं छोड़ा। योगी हमेशा कुर्ता पहनते हैं। उनके टीशर्ट पर लोगों की निगाहें टिकी रहीं।

उम्र से कम दिखे राजनाथ और नाईक

अमूमन कुर्ता पहनने वाले राजनाथ सिंह और रामनाईक टीशर्ट में कुछ अलग दिख रहे थे। योगी आदित्यनाथ यह कहने से चूके नहीं कि आज लोग अपनी उम्र से कम दिख रहे हैं। योगी ने कहा कि राज्यपाल और गृहमंत्री को तो मैं पहचान ही नहीं सका। गृहमंत्री को तो उनकी चाल से पहचाना।

----

सीएम आज पूरा सच नहीं बोले

सीएम ने कहा कि राज्यपाल ने राजभवन में योग करने की आज्ञा दी तो राज्यपाल ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री वैसे तो हमेशा सच बोलते लेकिन, आज पूरा सच नहीं बोले। हमने आज्ञा नहीं दी, बल्कि योग के लिए राजभवन में आमंत्रित किया है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.