ठंड में जरा संभलकर जलाएं गैस चूल्हा

2014-12-29T07:00:13Z

- ठंड में लापरवाही के चलते बढ़ जाती है आग से चलने की घटनाएं

- माचिस सीलने के चलते ढिबरी से गैस चूल्हा जला रही थी किशोरी

GORAKHPUR : ठंड के मौसम में आग की गर्मी वैसे तो बड़ा सुकून देती है, लेकिन इसमें लापरवाही आपकी जान के लिए खतरा बन सकती है। किचन में काम करते वक्त गैस चूल्हे को लेकर सावधानी बरतना कितना जरूरी है, इसकी बानगी देखने को मिली चिलुआताल में हुए एक हादसे में। क्क् साल की मासूम बच्ची छोटा गैस सिलेंडर जलाते वक्त आग की चपेट में आ गई और गंभीर रूप से जल गई। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

गैस सिलेंडर ऑन छोड़ गई थी

चिलुआताल के दहला निवासी पूर्णमासी की बेटी अनुराधा (क्क्) संडे मार्निग छोटे गैस सिलेंडर को जलाने का प्रयास कर रही थी। पानी में माचिस भीग जाने की वजह से माचिस सील गई थी। गैस ऑन छोड़कर अनुराधा ढिबरी लेने चली गई। जलती हुई ढिबरी लेकर वह जैसे ही गैस चूल्हे के पास लेकर पहुंची कि चूल्हे ने आग पकड़ ली। आग की चपेट में आकर अनुराधा गंभीर रूप से जल गई। परिजन इलाज के लिए उसे डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने अनुराधा की हादसे में मौत की सूचना पुलिस को दिए बिना ही डेडबॉडी का अंतिम संस्कार कर दिया।

अलाव में भी है खतरा

भीषण ठंड के कहर से बचने के लिए लोग अक्सर घर या बाहर अलाव जलाते हैं। लेकिन इसमें भी सावधानी बरतने की जरूरत है। जरा सी लापरवाही ठंड से बचाने की बजाय आपको झुलसा सकती है। आंकड़ें भी कुछ यही कहते हैं। डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में सिर्फ दिसंबर महीने में ही आग से झुलसे सौ से ज्यादा लोग इलाज कराने पहुंचे हैं।

लापरवाही से हो सकता है बड़ा हादसा

घर में काम करते वक्त अक्सर महिलाएं किचन में गैस चूल्हा जलाने के लिए माचिस का यूज करती हैं। इसके लिए गैस पहले ऑन कर माचिस जलाना ठीक नहीं है। जहां तक संभव हो, लाइटर का यूज करें। गैस जलाते वक्त फोन का इस्तेमाल न ही करें, तो बेहतर होगा। गैस पाइप में लीकेज या चूल्हे में रिसाव के चलते अक्सर गैस हवा की नमी में दब जाती है जिससे लीकेज का पता नहीं चलता। ऐसी स्थिति में खतरा दोगुना हो जाता है।

घरेलू गैस इस्तेमाल करते वक्त बरतें सावधानी

- गैस चूल्हा जलाने के लिए माचिस की जगह लाइटर का यूज करें।

- गैस ऑन करके न छोड़ें, बल्कि लाइटर जलाने के बाद ही गैस ऑन करे।

- गैस रिसाव की स्थिति में आस-पास की खिड़की खोल दें।

- रिसाव के दौरान बिजली उपकरण बंद कर दें। माचिस आदि का यूज न करें।

- ठंड में अलाव तापते समय कपड़ों का विशेष ध्यान रखें।

- अलाव से दूरी बना कर रखें, हवा से आग की लपटें कपड़ों तक पहुंच सकती हैं।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.