यूथ में बढ़ा होमियोपैथी का क्रेज

2013-04-11T05:23:00Z

Jamshedpur ब्यूटी ट्रीटमेंट हो या हेयर लॉस की प्रॉब्लम ओबेसिटी हो या डायबिटीज हर मर्ज का इफेक्टिव और इकोनॉमिकल ट्रीटमेंट होमियोपैथी के पास है जी हां होमियोपैथी अब सिर्फ दादादादी की पूरी उम्र चलने वाले दवाओं का डोज नहीं बल्कि यूथ के डिफरेंट हेल्थ रिलेटेड प्रॉब्लम्स के फटाफट ट्रीटमेंट का मेथड भी बन गया है सिटी के यूथ भी डिफरेंट हेल्थ प्रॉब्लम के लिए होमियोपैथी ट्रीटमेंट को प्रिफर कर रहे हैं बढ़ती पॉप्यूलैरिटी के साथसाथ इसमें कॅरियर के ऑप्शन भी तेजी से बढ़ रहे हैं

Homeopaethic treatment हो रहा popular
पिछले कुछ सालों में होमियोपैथी ट्रीटमेंट तेजी से लोगों के सामने आया है. नेशनल रुरल हेल्थ मिशन के तहत इसके डेवलपमेंट के लिए काफी प्रयास किए गए हैं. आयुष डिपार्टमेंट द्वारा स्टेट में 72 डिस्पेंसरीज बनाए गए है. इसके अलावा प्राइवेट स्तर पर भी होमियोपैथिक क्लिनिक्स की संख्या बढ़ी है. सिटी की बात की जाए तो यहां भी इस ट्रीटमेंट की काफी डिमांड है. साकची में होमियोपैथिक क्लिनिक चला रहे डॉ शशि मित्तल ने बताया कि पेशेंट्स की संख्या में हर रोज बढ़ोतरी हो रही है.

Youth भी हो रहे attract
होमियोपैथिक ट्रीटमेंट से क्योर होने के चांसेस को देखते हुए बड़ी संख्या में यूथ इस तरफ अट्रैक्ट हो रहे हैं. डॉ मित्तल ने बताया कि उनके पास आने वाले पेशेंट्स में करीब 40 परसेंट तक यूथ होते है. यह ट्रीटमेंट तो चीप है ही, इसमें स्कीन, हेयर, ओबेसिटी जैसे यूथ रिलेटेड हेल्थ प्रॉब्लम्स के लिए नई-नई दवाइयां भी आ रही हैं. सिंहभूम मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के लेक्चरर डॉ वी के जयसवाल के अनुसार ये ट्रीटमेंट न सिर्फ चीप है बल्कि काफी इफेक्टिव भी है.

कई तरह के beauty treatment है available
आज के यूथ अपनी ब्यूटी को लेकर किसी भी तरह का कंप्रोमाइज करना नहीं चाहते. स्कीन डिजीज से लेकर हेयर लॉस जैसी प्रॉब्लम्स से परेशान यूथ इसके लिए हर तरीके अपनाने को तैयार है. होमियोपैथी में डीप पिगमेंटेशन, ब्लैक स्पॉट्स, पिंपल्स, एक्ने और फंगल इंफेक्शन की वजह से होने वाले स्कीन डिजीज के इलाज का इफेक्टिव तरीका मौजूद है. सीडीएमएच कॉलेज के डॉ एस चौबे ने बताया कि इन बीमारियों के इलाज के लिए इंप्रूव्ड ट्रीटमेंट अवेलेबल हैं. इसके अलावा डायबिटीज और ओबेसिटी जैसी लाइफस्टाइल रिलेटेड डिजीज के ट्रीटमेंट का भी इफेक्टिव और हार्मलेस तरीका मौजूद है.

Career के है बेहतरीन option
होमियोपैथिक ट्रीटमेंट के बढ़ते डिमांड को देखते हुए यूथ अब इसे करियर के बेहतरीन ऑप्शन के रूप में भी देख रहे हैं. सीडीएमएच कॉलेज के 2 इयर के स्टूडेंट अनुप सिंह ने बताया कि एलोपैथी की तरह होमियोपैथ में भी कॅरियर के अच्छे ऑप्शन हैं, जिसे देखते हुए स्टूडेंट इसकी तरफ अट्रैक्ट हो रहै हंै. लेक्चरर वी के जयसवाल के अनुसार गवर्नमेंट की ओर से होमियोपैथिक डॉक्टर्स के लिए कई वेकेंसीज आ रही हंै. एनआरएचएम के तहत बड़े पैमाने पर होमियोपैथिक डॉक्टर्स की रिक्रूटमेंट की जा रही है. ऐसे में यह कॅरियर के हिसाब से अच्छा फिल्ड है.

होमियोपैथी के प्रति लोगों का इंट्रेस्ट बढ़ रहा है. बड़ी संख्या में यूथ भी इसकी तरफ अट्रैक्ट हो रहे हैं.
-डॉ शशि मित्तल, होमियोपैथिक डॉक्टर

होमियोपैथी ट्रीटमेंट का काफी इफेक्टिव और सस्ता मेथड है. इसमें स्कीन से रिलेटेड कई ब्यूटी ट्रीटमेंट भी अवेलेबल हैं. लोगों का इस तरफ झुकाव काफी बढ़ रहा है.
-डॉ एस चौबे, लेक्चरर, सिंहभूम ,मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल
कॅरियर के लिहाज से भी होमियोपैथी काफी अच्छा फिल्ड है. गवर्नमेंट सेक्टर में भी होमियोपैथिक डॉक्टर्स के लिए कई वेकेंसीज हैं.
-वी के जयसवाल, लेक्चरर, सिंहभूम मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल
 
होमियोपैथी काफी पॉपुलर हो रहा है. इसमें कॅरियर के अच्छे ऑप्शन हैं. करियर ऑप्शन को देखते हुए मैंने इसे चूज किया.
-संजय रूपांशू, स्टूडेंट, सिंहभूम होमियोपैथिक मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल

होमियोपैथी का फील्ड काफी बड़ा है. इसमें कॅरियर के लिए भी काफी अवसर हंै.
-अनुप सिंह, स्टूडेंट, सिंहभूम होमियोपैथिक मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल

Report by: abhijit.pandey@inext.co.in


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.