बिहार के युवा बडे़ सपनों को बनाएं गोल चेतन भगत

2019-07-15T11:00:37Z

-पटनाइट्स को दिए सफलता के टिप्स

PATNA: सपने और गोल में एक बड़ा अंतर होता है। हम ये कर लेंगे, वो कर लेंगे, ये सपने हैं लेकिन हम तय समय में कुछ अचीव कर लेंगे, ये गोल है। युवा अपने गोल को स्पष्ट करें और तय समय में उसे पूरा करें, तब ही वे सफल हो सकते हैं। ये कहना है यूथ आइडल बन चुके ऑथर चेतन भगत का। चेतन भगत बिहार सरकार के द्वारा आयोजित व‌र्ल्ड यूथ स्किल-डे के मौके पर पटना के बच्चों से रूबरू हो रहे थे। पटना के बच्चों को उन्होंने सफलता के मंत्र दिए। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से खास बातचीत में उन्होंने पटनाइट्स के लिए अपने विचार रखे।

बड़े गोल करें निर्धारित

युवा बड़े गोल निर्धारित करें और उसे पूरा करने में जूट जाएं। बीच में असफलता आएगी माइंड डिफोकस्ड होगा। युवा प्यार, फोन और गेम्स के कारण अपने करियर गोल को साइड कर देते हैं। वो गोल तय करते हैं लेकिन दो दिन में उसे फिर भूल जाते हैं। लेकिन जो चीजें अभी पढ़ाई के दौरान आपको परेशान कर रही हैं उसे अवाइड करें और अपने फोकस पर ध्यान दें। कल सफलता मिलने पर वही मेहनत आपको खुशी देगी। युवाओं के पास अभी समय है खुद को प्रूफ करने का। ये समय बीत जाने पर जो चीजें आज अच्छी लग रही हैं कल वही तकलीफ देंगी। इसलिए बड़ा गोल तय करें उसे पाने में जुट जाएं ।

अपने औकात को पार करें युवा

चेतन भगत ने कहा कि हमें हमेशा कहा जाता है अपनी औकात में रहो, मत भूलों की तुम क्या हो, लेकिन जिस दिन हम ठान लेते हैं कि हमारी औकात ये है और हमें इससे बाहर हासिल करना है तो हमें कोई नहीं रोक सकता। हमेशा अपने लेवल को समझो और उसके अनुसार गोल तय करो। मेहनत करने के बाद जब वो गोल हासिल होगा तो हम उस औकात से कहीं बाहर निकल चुके होंगे।

अपने स्कील को डेवलप करें

यूुथ को मोटिवेट करते हुए चेतन भगत ने कहा कि हमेशा अपनी स्किल को समझें और उसे डेवलप करें। हमारे पास स्मार्टफोन है हम इसमें बहुत कुछ कर सकते हैं पर हम इसका बेहतर उपयोग नहीं करते। स्किल को मोडीफाई करके हम बेहतर बन सकते हैं। जो हमारा गोल है उसे पार कर सकते हैं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.