vinod.sharma@inext.co.in
VARANASI : लोकसभा चुनाव में वाराणसी संसदीय सीट पर पूरे देश की निगाह है. होना भी लाजिमी है. यहां से प्रधानमंत्री, सीईओ, लेखक, अध्यापक, वकील से लेकर मजदूर तक इस सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. इनके बीच ना सिर्फ उनके पद बल्कि आर्थिक स्थिति, उम्र, शिक्षा में भी काफी अंतर है. सबके कम उम्र का प्रत्याशी 26 साल का है तो सबसे अधिक की उम्र 74 साल है. शिक्षा की बात करें तो एक प्रत्याशी पीएचडी है. स्नातक प्रत्याशियों की संख्या ज्यादा है. पीएम समेत तीन प्रत्याशी पोस्ट ग्रेजुएट भी हैं. इनके बीच एक अशिक्षित भी है. मालदार बाहुबली अतीक अहमद के पास सबसे अधिक 21 करोड़ की सम्पत्ति है.

24 लड़ रहे पहली बार
वाराणसी संसदीय सीट पर इस बार 26 प्रत्याशियों ने ताल ठोका है. पिछली पिछली 42 मैदान में थे. इस बार चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों में मात्र दो हैं जो दूसरी बार एक ही पार्टी से इस सीट पर आए हैं. इनमें भारतीय जनता पार्टी की ओर से नरेन्द्र मोदी और दूसरे अजय राय कांग्रेस से प्रत्याशी हैं. अन्य 24 प्रत्याशी दूसरे जिलों या प्रदेश से आए हैं. गुजरात के रहने वाले नरेन्द्र मोदी के सामने यूपी के अलावा आंध प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, बिहार, केरल और उत्तराखंड से आकर चुनौती देने की कोशिश में हैं. इनमें आंध प्रदेश के किसान और ओलिंपियन खिलाड़ी की बेटी भी है.

पीएचडी होल्डर और अशिक्षित भी
वाराणसी संसदीय सीट पर चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों में भारती जनक्रांति दल डेमो के प्रत्याशी राकेश प्रताप सबसे अधिक शिक्षित हैं. वह पीएचडी होल्डर हैं. भाजपा प्रत्याशी नरेंद्र मोदी, भारत प्रभात पार्टी के अमरेश मिश्रा और आदर्शवादी कांग्रेस पार्टी के बृजेंद्र दत्त त्रिपाठी एमए पास हैं. कई प्रत्याशी स्नातक और एलएलबी हैं. आशीन हाईपर लिंक लिमिटेड के सीईओ हैं. किसान सुन्नम इसतारी ने शिक्षा प्राप्त नहीं किया है.

रिकार्ड मुकदमे अतीक के नाम
निर्दल प्रत्याशी अतीक अहमद पर हत्या, गुंडा एक्ट, अपहरण, लूट समेत 26 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं. न्यायालय की ओर से 27 मामलों में आरोप की विरचना की गई है. दूसरे नम्बर पर कांगे्रस प्रत्याशी अजय राय हैं. इनके खिलाफ एमपी एमएलए कोर्ट इलाहाबाद में छह मुकदमें समेत कुल आठ मामले विभिन्न कोर्ट में विचाराधीन हैं. इसमें से चार में वह जमानत पर हैं. तीसरे नम्बर पर इंडियन गांधियन पार्टी के आशीन यूएस हैं, इन पर छह आपराधिक मामले हैं.

सबसे मालदार भी अतीक
26 प्रत्याशियों में सबसे अधिक मालदार निर्दल प्रत्याशी अतीक अहमद है. अतीक करीब 21 करोड़ की सम्पत्ति के मालिक है. दूसरे नम्बर पर पीएम नरेंद्र मोदी हैं, जिनके पास करीब ढाई करोड़ की सम्पत्ति है. तीसरे नम्बर पर कांग्रेस के अजय राय हैं, जो करीब एक करोड़ की प्रॉपर्टी के मालिक हैं.

सबसे युवा सुनील
प्रत्याशियों के बीच उम्र का भी बड़ा फर्क है. कुछ युवा तो कुछ वृद्ध की श्रेणी में हैं. चुनाव लड़ रहे निर्दल प्रत्याशी सुनील कुमार की उम्र सबसे कम 27 साल है. सबसे अधिक 74 साल के निर्दल सुन्नम इसतारी हैं. नरेन्द्र मोदी उम्रदराज उम्मीदवारों में एक हैं जो 68 वर्ष के हैं.

सिर्फ सात ही बनारस के
वाराणसी सीट पर बाहरी प्रत्याशियों की संख्या काफी ज्यादा है. कांग्रेस के अजय राय, सपा की शालिनी यादव समेत सात प्रत्याशी ही लोकल हैं. भाजपा के नरेंद्र मोदी समेत कई अन्य प्रत्याशी भारत के छह अलग-अलग स्टेट से हैं. 11 प्रत्याशी यूपी के अन्य जिलों के हैं. बाहरी होने के कारण ये 19 प्रत्याशी अपना ही वोट खुद को नहीं दे पाएंगे. यह भी एक रिकार्ड होगा.

सबसे अधिक -सबसे कम

शिक्षा

राकेश प्रताप- पीएचडी

सुन्नम इसतारी_ अनपढ़

उम्र

सुनील कुमार- 27 वर्ष

सुन्नम इसतारी- 74 वर्ष

सम्पत्ति

अतीक अहमद-21 करोड़

सुन्नम इसतारी- शून्य

मुकदमे

अतीक अहमद- 27 से अधिक मुकदमे

राजेश भारती सूर्य- 2 मुकदमे

(नोट: 16 प्रत्याशियों पर कोई मुकदमा नहीं)

वाहन

अतीक अहमद- लैंड क्रूजर समेत छह महंगी गाडि़यां

शालिनी यादव- दो कार

(नोट: नरेन्द्र मोदी समेत 16 प्रत्याशियों के पास वाहन नहीं हैं)

Posted By: Vivek Srivastava