नई दिल्ली (पीटीआई)। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों द्वारा जारी कीमतों को लेकर जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि बढ़ी हुई कीमत के बाद बिना सब्सिडी वाला 14.2 किलोग्राम का एलपीजी सिलेंडर अब 858.50 रुपये में मिलेगा। पहले इसकी कीमत 714 रुपये थी। जनवरी 2014 के बाद यह एलपीजी कीमतों में यह सबसे बड़ी उछाल है। उस समय एक एलपीजी सिलेंडर की कीमत 220 रुपये बढ़कर 1,241 रुपये तक पहुंच गई थी। घरेलू उपभोक्ताओं को एक साल में 12 सब्सिडी वाले सिलेंडर मिलते हैं। अब ऐसे ग्राहकों को सब्सिडी की रकम ज्यादा मिलेगी इसलिए बढ़ती हुई कीमतों का उन पर कोई असर नहीं होगा।

बढ़ जाएगी सब्सिडी की रकम

उद्योग से संबंधित अधिकारियों का कहना था कि अब घरेलू उपभोक्ताओं को रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी 153.86 रुपये प्रति सिलेंडर से बढ़कर 291.48 रुपये हो जाएगी। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (पीएमयूवाई) लाभ पाने वालों की सब्सिडी पर 174.86 रुपये प्रति सिलेंडर से बढ़कर 312.48 रुपये प्रति सिलेंडर हाे जाएगी। सब्सिडी के बाद घरेलू उपभोक्ताओं को 14.2 किलोग्राम वाला एक एलपीजी सिलेंडर 567.02 रुपये का पड़ेगा जबकि पीएमयूवाई वाले ग्राहकों को 546.02 रुपये का। सरकार ने 8 करोड़ गरीब महिलाओं को पीएमयूवाई के तहत एलपीजी दिया है ताकि वे पर्यावरण अनुकूल रसोई ईंधन का इस्तेमाल कर सके।

हर महीने बदलती है एलपीजी कीमतें

सामान्यतौर पर एलपीजी की कीमतें हर महीने की पहली तारीख को रिव्यू होती है लेकिन इस बार तकरीबन दो सप्ताह बाद इसमें बदलाव किया गया है। उद्योग से संबंधित अधिकारियों का कहना था कि कीमतों में ज्यादा बदलाव होता है तो स्वीकृति लेने के लिए कई बार अधिक समय लग जाता है। क्योंकि कीमतों में बदलाव का असर सब्सिडी पर भी पड़ता है। हालांकि अन्य का कहना था कि हो सकता है कि कीमतों में वृद्धि को दिल्ली में विधानसभा चुनाव को देखते हुए टाल दिया गया हो। 8 फरवरी को दिल्ली में मतदान हुआ था।

Posted By: Satyendra Kumar Singh

Business News inextlive from Business News Desk