JAMSHEDPUR: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा परिवार समेत दुर्घटना में बाल-बाल बच गए. शनिवार को वे रांची से वापस अपने घर जगन्नाथपुर जा रहे थे. इसी दौरान कराईकेला पानी टंकी एवं करंजो के बीच स्थित एक तालाब के समीप उनकी सरकारी गाड़ी का पिछला दायां टायर फटने से दुर्घटना हो गया. हालांकि इस दुर्घटना में कोड़ा दंपत्ति को कुछ नहीं हुआ. लेकिन सरकारी गाड़ी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई. पूर्व मुख्यमंत्री के वाहन के साथ उनका काफिला भी था. घटना की जानकारी मिलने पर आसपास एवं कराईकेला से काफी लोग वहां पहुंच गए और कोड़ा दंपत्ति का हाल लिया. वहीं दुर्घटना होने के बाद सरकारी गाड़ी रोड से रगड़ाते हुए खेत में जा गिरा. इस दरम्यान टायर फटने के बाद डिस रगड़ाने से गाड़ी में आग भी लग गई, लेकिन गाड़ी खेत में गिरने से आग बुझ गई. इससे बड़ी दुर्घटना टाल गई.

सरकार पर लगाया आरोप

इसके बाद कराईकेला पुलिस वैन से मधु कोड़ा, पत्नी सह जगन्नाथपुर विधायक गीता कोड़ा एवं बेटी चाईबासा के लिए निकल गए. मुध कोड़ा ने कहा कि ईश्वर को शुक्रिया, उनकी कृपा से बच गई जान. नहीं, तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी. उन्होंने बताया कि सरकारी गाड़ी बुलेटप्रूफ है. सरकार की ओर से मेरी सुरक्षा के लिए दिया गया था. लेकिन एक माह पूर्व ही इस गाड़ी में पुराना टायर लगाया गया था. साथ ही गाड़ी का कांच आदि भी टूटे हुए थे. सरकार द्वारा सुरक्षा की अनदेखी की गई. अगर यह दुर्घटना बंदगांव घाटी में होती, तो इसमें कोई नहीं बचता. गाड़ी खराब होने की शिकायत लिखित तौर पर सरकार से की गई है.