मुंबई (एएनआई)। मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और महाराष्ट्र के सभी मंत्रियों ने मंगलवार को राज्य में बाढ़ राहत के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में एक महीने का वेतन दान करने का फैसला किया। यह जानकारी मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) की ओर से किए गए ट्वीट में दी गई है। ट्वीट में लिखा गया 'सीएम देवेंद्र फड़नवीस और महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के सभी मंत्री महाराष्ट्र के बाढ़ पीड़ितों के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में एक महीने का वेतन दान करेंगे'।

6,813 करोड़ रुपये की सहायता

इस बीच, राज्य मंत्रिमंडल ने बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 6,813 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की, जिसमें से 4,708 करोड़ रुपये कोल्हापुर, सांगली और सतारा को आवंटित किए गए और कोंकण क्षेत्र, नासिक और बाकी प्रभावित जिलों के लिए 2,105 करोड़ रुपये आवंटित किए गए। सीमएओ की ओर किए गए ट्वीट में इस बात की जानकारी दी गई।

एक साथ किये कई सारे ट्वीट्स

इसके पूर्व दिन में ट्वीट्स की एक श्रृंखला में, फड़नवीस ने उन लोगों को धन्यवाद दिया, जिन्होंने बाढ़ के मद्देनजर मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान दिया था। फड़नवीस के ट्वीट में लिखा गया है, 'मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 51,00,000 रुपये के योगदान के लिए हरमन फिनोकैम लिमिटेड का धन्यवाद।' उनके दूसरे ट्वीट में लिखा गया 'औरंगाबाद जिला सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ का सीएम राहत कोष में 25,00,000 रुपये के योगदान के लिए धन्यवाद।'

भोजन और चिकित्सा सहायता के लिए दिया धन्यवाद

उन्होंने कोल्हापुर और सांगली जिलों में बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत प्रदान करने के लिए नांदेड़ के गुरुद्वारा बोर्ड को भी धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'गुरुद्वारा बोर्ड तखत सचखंड श्री हुजूर अचल नगर साहिब को कोल्हापुर और सांगली में बाढ़ प्रभावितों को भोजन और चिकित्सा सहायता के लिए धन्यवाद।'

BMC इलेक्शन में भाजपा, शिवेसना ने बाजी मारी लेकिन निगम पर कब्जा करना है सबके लिए भारी

मरने वालों की संख्या 43 तक पहुंची

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पुणे संभाग में बाढ़ और भारी बारिश के कारण मरने वालों की संख्या 43 तक पहुंच गई है, जबकि तीन लोग लापता हैं। यहां संभागीय आयुक्त कार्यालय के बयान के अनुसार, 584 गांवों से कम से कम 4,74,226 लोगों को बचाया गया है और पुणे, सांगली, कोल्हापुर, सतारा और सोलापुर जिलों में 596 अस्थायी आश्रयों को खाली कराया गया है।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk