मुंबई (महाराष्ट्र)(एएनआई)। महाराष्टर में विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से सरकार बनाने को लेकर उठपटक मची है।  इस बीच आज कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा के ट्वीट ने और खलबली मचा दी है। उन्होंने रविवार को अपने ट्वीट में कहा कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को अब राज्य के दूसरे सबसे बड़े गठबंधन राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करना चाहिए, क्योंकि भाजपा-शिवसेना गठबंधन सरकार बनाने के लिए तैयार नहीं है।  

 

दोनों दलों के बीच '50 -50 ' पाॅवर शेयरिंग एग्रीमेंट  

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कल शनिवार को भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी पार्टी के रूप में महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी ने 105 सीटों पर जीत हासिल की है। वहीं शिवसेना ने 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में 56 सीटों पर जीत हासिल की हैं। हालांकि शिवसेना का कहना है कि चुनाव से पहले दोनों दलों के बीच '50 -50 ' पाॅवर शेयरिंग एग्रीमेंट हुआ था। इसके बाद ही दोनों दलों ने गठबंधन करके यहां पर विधानसभा चुनाव लड़ा था।

दोनों पार्टियों में मुख्यमंत्री को लेकर विवाद हो रहा

वहीं इस पूरे मामले में पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि शिवसेना के साथ 50-50 के फार्मूले पर कोई बात नहीं हुई। इसके अलावा शिवसेना को ढाई साल तक मुख्यमंत्री पद का वादा भी नहीं किया गया था। बता दें कि यहां पर भाजपा और शिवसेना गठबंधन को 161 सीटें मिली है जो सरकार बनाने के लिए जरूरी 145 सीटों से ज्यादा है लेकिन दोनों पार्टियों में मुख्यमंत्री को लेकर विवाद हो रहा है। वहीं कांग्रेस (44) और राकांपा (54) सीटों पर ही हैं जो कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 145 अंकों से काफी कम हैं।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk