कानपुर। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के नतीजे घोषित हो गए हैं। यहां पर्ली सीट से चुनाव लड़ रही बीजेपी की पंकजा मुंडे एनसीपी के धनंजय मुंडे से हार गईं। इस बार चुनाव में सबसे रोचक जंग पर्ली विधानसभा सीट पर देखने को मिली। यहां भाई-बहन के बीच कांटे की टक्कर हुई। एक तरफ बीजेपी की पंकजा मुंडे थी तो दूसरी तरफ उनके चचेरे भाई धनंजय मुंडे जोकि एनसीपी उम्मीदवार हैं।

एनसीपी के घनंजय मुंडे आगे

एनसीपी के घनंजय मुंडे महाराष्ट्र की पर्ली विधानसभा सीट पर चुनाव जीत गए हैं। उन्हें मतगणना में 122114 वोट मिले हैं। बीजेपी की पंकजा मुंडे दूसरे नंबर पर रहीं जिन्हें 91413 वोट मिले हैं।

पिछली बार हरा चुकी हैं भाई को

बता दें 2014 विधानसभा चुनाव में पंकजा मुंडे ने अपने ही भाई धनंजय को करारी शिकस्त दी थी। भाई को हराने का इनाम पंकजा को मंत्री पद के रूप में मिला। फड़नवीस सरकार में पंकजा ग्रामीण विकास और महिला एंव बाल कल्याण विकास मंत्री रही हैं। इस बार अगर पंकजा फिर से बाजी मारती हैं तो बीजेपी की दिग्गज नेताओं की लिस्ट में शामिल हो जाएंगी। पर्ली विधानसभा सीट इसलिए भी खास है, क्योंकि यहां एक ही राजनीतिक परिवार के दो लोग चुनावी मैदान में हैं और दोनों एक-दूसरे के खिलाफ लड़ रहे।

महाराष्ट्र की 288 सीटों पर हुए चुनाव

महाराष्ट्र विधानसभा के लिए 21 अक्टूबर को वोट डाले गए थे। यहां एक चरण में ही चुनाव प्रक्रिया संपन्न की गई। वोटों की गिनती की तारीख 24 अक्टूबर रखी गई और नतीजों की घोषणा भी उसी दिन हो जाएगी।  दरअसल महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को समाप्त हो जाएगा। महाराष्ट्र विधान सभा में सीटों की संख्या 288 हैं, इनमें 234 सीटें सामान्य हैं जबकि अनुसूचित जाति और अनूसूचित जनजाति की क्रमश: 29 और 25 सीटें हैं।

गठबंधन के बीच होगा मुकाबला

महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन(एनडीए) और कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन के बीच मुख्य मुकाबला है। भाजपा गठबंधन की बात करें तो भाजपा 150 सीटों पर चुनाव लड़ रही है तो वहीं शिवसेना 124 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। वहीं अगर बात कांग्रेस की बात करें तो उसने 147 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं, वहीं एनसीपी 121 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari