कानपुर(इंटरनेट-डेस्क)। Makar Sankranti 2021 Shubh Muhurat: भारत में धूमधाम से मनाए जाने वाले पर्व मकर संक्रांति के दिन सूर्य देवता मकर राशि में प्रवेश करते हैं। इस वजह से इसे मंकर संक्रांति पर्व कहा जाता है। हिन्दू धर्म में इस त्योहार के पीछे कई अलग-अलग मान्यताएं हैं। शास्त्रों के मुताबिक दक्षिणायण को देवताओं की रात्रि यानी नकारात्मकता का प्रतीक तथा उत्तरायण को देवताओं का दिन यानी सकारात्मकता का प्रतीक माना जाता है। मकर संक्रांति के दिन सूर्य की उत्तरायण गति शुरू होती है। इसलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान, श्राद्ध, तर्पण आदि का विशेष महत्व है। यूं तो सूर्य सभी राशियों को प्रभावित करते हैं लेकिन कर्क व मकर राशियों में सूर्य का प्रवेश अत्यन्त फलदायक माना जाता है।
मकर संक्रांति शुभ मुहूर्त
दृक पंचांग के मुताबिक इस साल मकर संक्रांति गुरुवार, 14 जनवरी को मनाया जाएगा। मकर संक्रांति पुण्य काल का मुहूर्त 09 घण्टे 16 मिनट्स का है। यह 08:30 बजे सुबह से शाम 05:46 बजे तक है। वहीं मकर संक्रांति का महा पुण्य काल मुहूर्त 01 घण्टा 45 मिनट्स का है। यह सुबह 08:30 से सुबह 10:15 तक है। इस दिन खिचड़ी बनाना शुभ माना जाता है। बता दें कि मकर संक्रांति को पूरे देश में अलग-अलग नामों से मनाया जाता है। यूपी में इसे मंकर संक्रांति के अलावा खिचड़ी कहकर भी संबोधित करते हैं। वहीं पंजाब में इसे माघी, असम में बीहू, तमिलनाडु में पोंगल, गुजरात में उत्तरायण के नाम से जाना जाता है। कुछ जगहों पर यह त्योहार कई दिनों तक चलता है।

Happy Lohri 2021 Date: लोहड़ी पर्व के कुछ दिन शेष, यहां जानें दिन, तारीख और समय