- थर्सडे को एक सब्जी आढ़ती का बेटा आया था कोरोना पॉजिटिव

- आनन-फानन में सील की गई थीं 11 सब्जी की दुकानें

- कोरोना पेशेंट मिलने के बाद निरंजनपुर सब्जी मंडी पांच दिनों के लिए बंद

एक नजर

- अब ट्यूज्डे रात दो बजे खुलेगी मंडी

- इस बीच सेनिटाइजेशन का होगा काम

- फ्राइडे को 2500 में से केवल 600 वेंडर्स को ही दी गई एंट्री

- आज से होगी वेंडर्स सहित अन्य की सैंप¨लग

- सीएमओ की ओर से मांगी गई है लिस्ट

देहरादून।

दून की सबसे बड़ी निरंजनपुर सब्जी मंडी में कोरोना पॉजिटिव केस रिपोर्ट होने के बाद मंडी को बंद कर दिया गया है। मंडी अब ट्यूज्डे रात दो बाद खोली जाएगी। थर्सडे को मंडी में आढ़ती का बेटे का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था, हालांकिक आढ़ती का कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है। ऐसे में मंडी प्रशासन को थोड़ा राहत मिली है, लेकिन एहतियातन मंडी को फ्राइडे को एक घंटे खोलने के बाद ट्यूज्डे तक के लिए बंद कर दिया गया है। इसके बाद मंडी में सेनिटाइजेशन किया गया। सैटरडे से मंडी के सब्जी व्यापारी व अन्य की सैंपलिंग की जाएगी।

2500 में से सिर्फ 600 को मिली एंट्री

दरअसल मंडी में डेली वेंडर्स सहित सभी गाड़ी वालों को मिलाकर करीब ढाई हजार लोगों को एंट्री दी जाती है। लेकिन फ्राइडे को यहां 600 लोगों को ही एंट्री दी गई। उन्हें भी एक घंटे से ज्यादा अंदर नहीं रुकने दिया गया। वहीं मंडी में तीन आढ़तियों को कोरोना होने की अफवाह उड़ने की वजह से खुद भी लोगों ने यहां जाने से परहेज किया। कोरोना पेशेंट के अगल-बगल वाले भी बेहद डरे हुए थे। ऐसे में वे भी फ्राइडे को शॉप्स पर नहीं गए।

3 दिन मंडी कैंपस में होगा सेनिटाइजेशन

मंडी फ्राइडे को बंद करने के साथ ही अब तीन दिनों तक यहां सेनिटाइजेशन का काम किया जाएगा। फ्राइडे को व्यापारियों के साथ मंडी अधिकारियों की बैठक भी हुई। जिसके बाद ये फैसला लिया गया कि मंडी वेडनेसडे को खोली जाएगी। साथ ही टिहरी, धनोल्टी, मसूरी सहित अन्य जगहों से आने वाले आलू-प्याज की गाडि़यों को नई मंडी में खड़ा करा दिया गया। साथ ही एक से लेकर 22 डी तक पूरा ब्लॉक सील कर दिया गया है।

बिना मास्क जो दिखेगा, सख्त एक्शन

फ्राइडे को मंडी अध्यक्ष राजेश शर्मा ने भी मंडी का विजिट किया। उन्होंने सेनिटाइजेशन का इंस्पेक्शन किया और निर्देश दिए कि कोई भी व्यक्ति या कर्मचारी मंडी कैंपस के अंदर बिना मास्क के दाखिल हुआ तो उसके विरुद्ध सख्त एक्शन लिया जाएगा और एक हजार रुपए जुर्माना वसूला जाएगा। अब तक चार लोगों के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है। मंडी इंस्पेक्टर अजय डबराल ने बताया कि यहां सोशल डिस्टें¨सग भी पूरी तरह से फॉलो कराई जा रही थी और आगे भी जारी रहेगी।

-------------------

लीवर डेमेज की थी दिक्कत

कोरोना पॉजिटिव आने वाले युवक को लेकर मंडी अधिकारियों ने बताया कि उसे पीलिया था। ड्रिंक भी करता था, ऐसे में लिवर में कुछ शिकायत के चलते हॉस्पिटैलाइज किया गया था। युवक के पिता का कहना है कि उसे हॉस्पिटल में ही कोरोना इन्फेक्शन हुआ है। युवक के पिता को भी दून हॉस्पिटल में क्वारंटीन किया गया है।

ऑफिशियल स्टैंड

मंडी में जिस आढ़ती के यहां मुनीम का बेटा काम करता था। उस आढ़ती की रिपोर्ट निगेटिव आई है। माना जा रहा है कि विजय जलाल जिस अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती था वहीं कोरोना हुआ हो, क्योंकि मंडी में बेहद सतर्कता बरती जा रही है। यहां टेंपरेचर लेने के साथ ही मास्क, सेनिटाइजर सबके पूरे बंदोबस्त किए गए हैं। अब मंडी वेडनेसडे को खुलेगी।

- विजय थपलियाल, सचिव, निरंजनपुर मंडी समिति

घर-घर में दहशत

हम हमेशा निरंजनपुर सब्जी मंडी से ही सब्जियां लाते हैं। लेकिन, मंडी में एक कोरोना पॉजिटिव केस रिपोर्ट होने के बाद सोच रहे हैं कि फ्रीज में रखी सब्जियां खाएं या नहीं।

- रोशनी कोठारी

--

सब्जी मंडी में हमारी आवाजाही बनी रहती है। कई बार खुद ही वहां से सब्जी ले आते हैं तो कई बार आस-पड़ोस के लोगों से मंगवा लेते हैं। लेकिन अब तो घर में रखे फल खाने में भी दहशत हो रही है।

- सुनीता सेमवाल

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner