कुंभ में आने वाले अर्ध सैनिक बलों के रुकने के लिए लिए प्रशासन ने अधिग्रहित किए कई स्कूल

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: कुंभ मेला की सुरक्षा के लिए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ ही पीएसी व अन्य अर्धसैनिक बल के जवान प्रयागराज पहुंच रहे हैं. मेला तक इन लोगों के ठहरने के लिए सिटी के इंटर कालेजों को जिला प्रशासन की ओर से एक दिसंबर से 5 मार्च तक अधिग्रहित किया गया है. इनमें ब्वॉयज इंटर कालेज के साथ ही ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज भी शामिल है. अधिग्रहण से ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज प्रबंधन इन दिनों काफी टेंशन में हैं. वे छात्राओं की सुरक्षा के साथ कई दूसरी दिक्कतों का हवाला दे रहे हैं.

कैसे होगी ग‌र्ल्स की सुरक्षा

स्कूल प्रबंधन का कहना है कि कि सभी ग‌र्ल्स इंटर कॉलेजों को एक दिसंबर से 5 मार्च तक अधिग्रहित करने का आदेश जारी हुआ है. स्कूलों में अर्ध सैनिक बलों व पीएसी के ठहरने के लिए आठ-आठ कमरे मांगे गए हैं. ऐसे में जब अर्ध सैनिक बल व पीएसी के जवान स्कूल में रहेंगे तो छात्राओं की सुरक्षा को लेकर टेंशन बढ़ जाएगी. क्रास्थवेट ग‌र्ल्स इंटर कालेज की प्रिंसिपल डॉ. अंजु चतुर्वेदी ने बताया कि स्कूल में किसी भी प्रकार के ब्वॉयज की एंट्री बैन है. जब पीएसी के जवान स्कूल में रहेंगे तो उनको स्कूल में घूमने से रोकना संभव नहीं है. अब यदि इस दौरान किसी छात्रा के साथ कोई घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा. यही हाल आर्य कन्या इंटर कालेज, जीजीआईसी फाफामऊ व अन्य ग‌र्ल्स इंटर कालेज में भी है.

एक ही शौचालय का करेंगे प्रयोग

ग‌र्ल्स इंटर कालेज में शौचायल भी कॉमन होते हैं. इन्हें महिला टीचर्स और ग‌र्ल्स एक साथ प्रयोग करती हैं. ऐसे में छात्राओं और महिला टीचर्स के साथ अर्धसैनिक बल या अन्य कोई सुरक्षाकर्मी उनका प्रयोग करेंगे तो ये किसी भी सूरत में उचित नहीं होगा. क्रास्थवेट ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज में कुल 8 शौचालय हैं. जिनका प्रयोग टीचर्स और छात्राएं करती हैं. वहीं आर्य कन्या ग‌र्ल्स इंटर कालेज में कुल तीन शौचालय की व्यवस्था है. स्कूल में 2000 बच्चे और 100 टीचिंग व नान टीचिंग स्टाफ भी हैं.

नहीं बंद कर सकते स्कूल

स्कूल की प्रिंसिपल क्रास्थवेट ग‌र्ल्स इंटर कालेज की प्रिंसिपल डॉ. अंजू चतुर्वेदी ने बताया कि एक सप्ताह की बात होती तो आसानी से मैनेज किया जा सकता था. लेकिन तीन माह तक स्कूल को बंद करना भी संभव नहीं है. ग‌र्ल्स इंटर कालेज प्रशासन का कहना है कि स्कूल पहले से यूपी बोर्ड परीक्षा का केन्द्र है. इसके साथ ही एनआईओएस के डीएलएड की क्लासेस भी 24 दिसंबर से 4 जनवरी तक संचालित होनी हैं. ऐसे में स्कूल को किसी अन्य कार्य के लिए देना संभव नहीं है.

ग‌र्ल्स स्कूल में अर्धसैनिक या पीएसी के जवानों को रोकना संभव नहीं है. इससे ग‌र्ल्स की सुरक्षा व अन्य कई परेशानियां खड़ी होंगी. ग‌र्ल्स की सुरक्षा आदि से किसी भी प्रकार का समझौता संभव नहीं है. तीन माह तक स्कूल बंद करना भी संभव नहीं है.

-डॉ. अंजू चतुर्वेदी, प्रिंसिपल, क्रास्थवेट ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज

स्कूल में ग‌र्ल्स के लिए शौचालय आदि की व्यवस्था है. ग‌र्ल्स स्कूल में सुरक्षाबल को ठहराना संभव नहीं होगा. इस बारे में डीआईओएस को पत्र भी स्कूल की तरफ से भेजा गया है.

-सुधा श्रीवास्तव, प्रिंसिपल, आर्य कन्या इंटर कॉलेज

आर्य कन्या इंटर कॉलेज

2000

स्कूल में पढ़ने वाली ग‌र्ल्स की संख्या

03

स्कूल में शौचालय की कुल संख्या

100

टीचिंग व नान टीचिंग स्टाफ की संख्या

24

दिसंबर से 4 जनवरी तक एनआईओएस की डीएलएड की क्लासेस का संचालन

100

डीएलएड के स्टूडेंट्स की स्ट्रेंथ करीब

-------

क्रास्थवेट ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज

08

स्कूल में प्रशासन की ओर अधिग्रहित कमरों की संख्या

04

टीचर्स व छात्राओं के लिए मौजूद शौचालय की संख्या

03

महीने तक स्कूल में पढ़ाई होगी बाधित