नई दिल्ली (एएनआई)। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी भारत-चीन सीमा मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ खड़ी है। मायावती ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा और कांग्रेस द्वारा भारत-चीन सीमा मुद्दे पर एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप द्वारा की जा रही राजनीति राष्ट्र के हित में नहीं है।यह एक बड़ी चिंता का विषय है। कई अन्य मुद्दों की अनदेखी की जा रही है जिसकी वजह से चीन इस स्थिति का फायदा उठा सकता है। हमारे देश के नागरिकों को नुकसान हो रहा है।

बहुजन समाज पार्टी किसी के लिए खिलौना नहीं

बसपा प्रमुख ने कहा कि बीएसपी का गठन पिछड़े वर्ग के लोगों, आदिवासियों और परिवर्तित अल्पसंख्यकों से जुड़े लोगों के हित के लिए किया गया था। जब यह पार्टी बनी थी, तब कांग्रेस सत्ता में थी। अगर कांग्रेस पार्टी इस वर्ग के लोगों के हित के लिए कुछ करती, तो हमें बीएसपी बनाने की आवश्यकता नहीं होती। मैं बीजेपी और कांग्रेस को बताना चाहती हूं कि बीएसपी किसी के लिए खिलौना नहीं है। यह राष्ट्रीय स्तर पर गठित एक स्वतंत्र पार्टी है। बसपा प्रमुख ने कांग्रेस पर अपना हमला जारी रखा और कहा कोरोना वायरस के बीच अपने मूल राज्य में लौट आए प्रवासी दूसरे राज्यों में जब काम करने गए थे तब कांग्रेस सत्ता में थी

भारत को आत्म निर्भर बनाने के लिए मेहनत करनी होगी

अगर कांग्रेस ने उनकी मदद के लिए कुछ भी किया होता, तो वे विभिन्न राज्यों में जाकर रोजगार नहीं मांगते। बीजेपी को कांग्रेस से कुछ सीखना चाहिए और जो उन्होंने किया उसे दोहराना नहीं चाहिए। इसके साथ ही कहा कि भारत को आत्म निर्भर बनाने के लिए वास्तव में कड़ी मेहनत करनी होगी। मायावती ने केंद्र से देश में ईंधन की कीमतों को नियंत्रित करने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि एक तरफ नागरिक कोविड-19 महामारी के कारण परेशान हैं, दूसरी तरफ, ईंधन की इस निरंतर वृद्धि ने उनकी समस्याओं को और ज्यादा बढ़ा दिया है।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk