-जिला अस्पताल के सड़क पार वाले भाग में जलता मिला मेडिकल वेस्ट

- कांच की शीशियां फटने से होते रहे धमाके, सिरिंज, बोतल भी पड़ी मिली

बरेली : डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के रोड के पार बने हड्डी वार्ड के पीछे तेज धमाकों की आवाज से वार्ड में एडमिट पेशेंट और तीमारदार चौंक गए. देखने पर पता चला कि यहां बॉयो मेडिकल वेस्ट जला दिया गया. मेडिकल वेस्ट में खाली शीशियां व बोतलें पड़ी थीं तो गर्म होकर फट रही थीं. कुछ देर बाद आग बुझ गई, लेकिन स्टाफ ने न तो आग बुझाने की कोशिश की और न ही अधिकारियों को इसकी सूचना दी.

धमाके के साथ फूटी बोतलें

सैटरडे को सड़क पार वाले हिस्से में हड्डी वार्ड के पीछे मेडिकल वेस्ट जलता मिला. वहां दीवार के पीछे मेडिकल वेस्ट रखने की जगह बना रखी है. वहां कई शीशियों, बोतलों, सिरिंज, कैथ, कॉटन समेत अन्य मेडिकल वेस्ट में किसी ने आग लगा दी. आग लगने पर शीशियां व बोतल धमाके के साथ फूटते रहे. वार्ड में तैनात स्टाफ व अन्य किसी कर्मचारी ने उसे नहीं देखा. कुछ देर बाद आग खुद बुझ गई.

चेतावनी का भी असर नहीं

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में बीते दिनों इमरजेंसी के पास ओटी के पीछे मेडिकल वेस्ट इकट्ठा करने का कक्ष बना है. पिछले दिनों कक्ष के पीछे बॉयो मेडिकल वेस्ट डाल कर आग लगा दी गई. दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने इसे प्रमुखता से प्रकाशित किया था, जिसके बाद एडीएसआईसी डॉ. टीएस आर्या ने हॉस्पिटल मैनेजर, मैटर्न व सफाई एजेंसी वालों को सख्त चेतावनी दी थी, लेकिन एडीएसआईसी की चेतावनी भी बेअसर साबित हुई.

वर्जन

बॉयो मेडिकल वेस्ट को इकट्ठा कर निस्तारण के लिए देने के निर्देश है. पिछली बार कूड़ा जलाने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी थी. मामले की जांच कराई जाएगी, फिर दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी.

डॉ. टीएस आर्या, एडीएसआईसी