- विभिन्न धर्मो के धर्मगुरुओं ने देश की सुरक्षा को लेकर की विशेष बैठक

DEHRADUN: भारत के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने दिल्ली में अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद एक विशेष बैठक का आयोजन किया. बैठक में विभिन्न प्रसिद्ध संतो ने प्रतिभाग कर अयोध्या मामले पर अपने विचार रखे.

यह फैसला नहीं मिसाल है

रविवार को दिल्ली में आयोजित बैठक में ऋषिकेश परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने अपने विचार बताते हुए कहा कि कई वर्षो से जिसका इंतजार था उसका फैसला आया और सबसेच्अच्छी बात यह है कि कोई फासला न आया ऐसा फैसला आया. उन्होंने कहा कि इसमें कुछ देर अवश्य हुई लेकिन राहत सभी को मिली. स्वामी ने कहा कि यह फैसला एक मिसाल है और यह मशाल बनकर पूरे विश्व को प्रकाशित करेगा. यह तो हमारे वतन से विश्व की यात्रा है. वतन को चमन बनायें रखने के लिये वतन में अमन लाने के लिये इससे बेहतरीन और कुछ नहीं हो सकता. इस मौके पर योगगुरु स्वामी रामदेव, स्वामी अवधेशानन्द गिरी, स्वामी ज्ञानानंद, स्वामी कमलदास महाराज, स्वामी परमात्मानन्द महाराज, सैय्यद नूरी साहब, मौलाना अब्बास, मौलाना आरिफ खान साहब, मौलाना कल्बे जव्वाद साहब, मौलाना नसरूद्दीन, का•ाी जहीर, मौलाना वीर हामिर साहब, महमूद दरियाबादी सहित अन्य संतों एवं विभिन्न धर्मगुरूओं ने अपने-अपने विचार रखे.

Posted By: Inextlive