- लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन के एमडी, डायरेक्टर की अगुवाई में सिटी पहुंची टीम

- प्रॉयोरिटी सेक्शन में यूटिलिटी सर्विसेज हटाने के लिए केडीए में हुई मीटिंग

- इसी महीने टेंडर होने की उम्मीद, टीम ने प्रॉयोरिटी सेक्शन का किया निरीक्षण

kanpur@inext.co.in

KANPUR:

लंबे इंतजार के बाद कानपुर मेट्रो का सपना आखिरकार धरातल पर उतरने को तैयार है. सबकुछ ठीक रहा तो सितंबर से मेट्रो के प्रायोरिटी सेक्शन पर काम शुरू कर दिया जाएगा. इसी कड़ी में ट्यूजडे को कानपुर में मेट्रो दौड़ाने की जिम्मेदारी संभाल रही एलएमआरसी की टीम सिटी पहुंची. एमडी व डायरेक्टर की अगुवाई में आई टीम ने आईआईटी से मोतीझील के बीच काम शुरू करने के लिए पीडब्ल्यूडी एनएच से एनओसी और विभिन्न विभागों से यूटिलिटी सर्विस शिफ्ट कराने को लेकर केडीए में मीि1टंग की.

टेंडर कॉल करने की तैयारी

कानपुर में आईआईटी से फूलबाग, घंटाघर होते हुए नौबस्ता और सीएसए से बर्रा-8 तक मेट्रो दौड़नी है. लगभग 11 हजार करोड़ का यह प्रोजेक्ट सेंट्रल गवर्नमेंट से पास हो चुका है. लेकिन इसके कुछ दिनों बाद ही पार्लियामेंट इलेक्शन डिक्लेयर होने से प्रोजेक्ट लटक गया था. इधर, टेंडर कॉल करने की तैयारी शुरू हो गई है. एलएमआरसी के ऑफिसर्स के मुताबिक टेंडर ड्राफ्ट तैयार हो गया है. अगले 15 दिनों में टेंडर कॉल किए जाएंगे. सितंबर से आईआईटी से मोतीझील के बीच काम शुरू कर दिया जाएगा.

यूटिलिटी सर्विस होंगी शिफ्ट

सबसे पहले आईआईटी से मोतीझील के बीच जीटी रोड पर एलीवेटेड मेट्रो दौड़ाई जानी है. इसी वजह से जीटी रोड पर काम शुरू करने के लिए पीडब्ल्यूडी एनएच से एलएमआरसी को एनओसी लेनी है. इसके लिए वह अप्लाई कर चुके हैं, लेकिन एनओसी नहीं मिली है. इस तरह प्रॉयोरिटी सेक्शन में इलेक्ट्रिसिटी लाइन ट्रांसमिशन लाइन, पाइप लाइन टेलीकॉम लाइन आदि यूटिलिटी सर्विसेज भी आ रही हैं. इन्हें शिफ्ट किया जाना है. इन प्रॉब्लम्स को लेकर एलएमआरसी के एमडी कुमार केशव व डायरेक्टर संजय मिश्रा की अगुवाई में आई टीम ने वीसी किंजल सिंह व अन्य ऑफिसर्स के साथ मीटिंग की और प्रॉब्लम्स को हल कराने में मदद मांगी. बाद में लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन की टीम ने मोतीझील से आईआईटी तक रूट का निरीक्षण किया. प्रपोज्ड मेट्रो स्टेशंस की साइट देखी. कॉस्टिंग यार्ड के लिए प्रपोज्ड जमीनें भी देखीं.

......

कॉरिडोर फ‌र्स्ट--आईआईटी से नौबस्ता

लंबाई-- 23.785 किलोमीटर

स्टेशन-- 22

.....

कॉरिडोर सेकेंड-- सीएसए से बर्रा-8

लंबाई-- 8.600 किलोमीटर

स्टेशन-- 8

....

प्रॉयोरिटी सेक्शन-- आईआईटी से मोतीझील

लंबाई-- 8.5 किलोमीटर

मेट्रो स्टेशन-- 9

....