एमपीएड, बीएससी, एमएसडब्ल्यू सहित अन्य कोर्सो के अभ्यर्थियों ने जताई आपत्ति

काउंसिलिंग सेल ने किया खारिज, आवेदन निरस्त होने के कारण दाखिले से वंचित

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ प्रशासन ने एमपीएड में 160 अंक पाने वाले कैंडिडेट्स को फीस जमा करने का एसएमएस भेज दिया है. जबकि एंट्रेंस एग्जाम में 170 अंक पाने वाले कैंडिडेट्स एडमिशन की दौड़ से बाहर हो गए हैं. इस तरह की एक-दो नहीं करीब 100 से अधिक अभ्यर्थियों ने आपत्ति दर्ज कराई है. अभ्यर्थियों का दावा है कि निर्देश के अनुसार सभी प्रमाणपत्र वेबसाइट पर अपलोड किए गए थे. इसके बावजूद दाखिले से वंचित कर दिया गया. इस संबंध में कोई सूचना तक नहीं दी गई है.

कुलसचिव से की शिकायत

बुधवार को बड़ी संख्या में अभ्यर्थी विद्यापीठ पहुंचे. उन्होंने कुलसचिव व सहायक कुलसचिव से मिलकर लिखित शिकायत की. सोनम वर्मा ने एमपीएड की प्रवेश परीक्षा में 161 अंक, अर्जुन गुप्ता ने ओबीसी संवर्ग में 170 अंक मिलने का दावा किया है. एमएसडब्ल्यू, बीएससी सहित अन्य पाठ्यक्रमों में भी तमाम अभ्यर्थियों ने इस तरह की शिकायत दर्ज कराई है.

खारिज की शिकायतें

शिकायतों को खारिज करते हुए काउंसिलिंग सेल के संयोजक डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि विसंगतियों के चलते 703 अभ्यर्थियों का आवेदन निरस्त किया गया है. आवेदन निरस्त हो जाने के कारण प्रवेश परीक्षा में अधिक अंक होने के बावजूद ऐसे अभ्यर्थियों को शुल्क जमा करने का मौका नहीं दिया गया है.