-ऊर्जा राज्यमंत्री ने पीवीवीएनएल के एमडी कार्यालय में विभाग के अधिकारियों संग की मीटिंग

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर सिंह पटेल ने गुरुवार को पीवीवीएनएल के एमडी कार्यालय में विभाग के अधिकारियों संग बैठक की. इस दौरान वाराणसी मंडल में विद्युत की क्रियान्वित योजनाओं, आपूर्ति आदि की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार 2022 तक गांवों में भी 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रही है. निर्देश देते हुए कहा कि रात में कटौती बिल्कुल नहीं होनी चाहिए. ट्रांसफार्मर 24 से 48 घंटे के बीच में बदले जाएं. एसडीओ व जेई फोन किसी भी हालत में उपभोक्ताओं के फोन को नजर अंदाज न करें.

विधायक से कराएं उद्घाटन

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिजली के जो भी कार्य पूर्ण हो चुके हो उनका स्थानीय सांसद एवं विधायक से उद्घाटन कराएं. निजी नलकूप उपभोक्ताओं के लिए विशेष योजना है. ऐसे निजी नलकूप स्वामी जिन्होंने बिजली कनेक्शन नहीं लिया और बिजली से नलकूप चला रहे हैं, वे मात्र 22500 एकमुश्त जमा कर नलकूप का कनेक्शन लेकर उपभोक्ता बने. यह स्कीम 31 अक्टूबर 2019 तक लागू है.

जिलेवार हुई समीक्षा

बैठक में विद्युत विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं पं. दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, सौभाग्य योजना, आईपीडीएस, बिजनेस प्लान आदि की बिंदुवार व जिलेवार समीक्षा हुई. जिस पर मंत्री ने संतोष व्यक्त किया. पूवरंचल डिस्कॉम में 70 लाख ग्रामीण व 12 लाख शहरी उपभोक्ता हैं.