रामगढ़: छह दिनों से लापता सेंट्रल स्कूल भुरकुंडा की टीचर 25 वर्षीया कुमारी अंकिता का शव शनिवार की सुबह बरकाकाना रेलवे जोड़ा तालाब में पाया गया. संदेहास्पद स्थिति में तालाब में टीचर का शव मिलते ही सनसनी फैल गई. देखते ही देखते वहां सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई. रामगढ़ पुलिस भी पहुंची. मृतका के पति वेद प्रकाश समेत अन्य परिजनों ने पहुंचकर शव की शिनाख्त की. रेलवे क्षेत्र के तालाब में शव मिलने के कारण जीआरपी बरकाकाना पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए रामगढ़ सदर अस्पताल भेजा. शव की परिस्थिति को देखकर संभावना जताई गई कि टीचर ने तालाब के पानी में डूबकर आत्महत्या कर ली है.

पति ने दर्ज कराया था सनहा

हरियाणा के गुरुग्राम में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के प्रधान कार्यालय में प्रबंधक पद पर कार्यरत जहानाबाद (बिहार) निवासी टीचर कुमारी अंकिता के पति वेद प्रकाश ने नौ अक्टूबर को रामगढ़ थाने में अपनी पत्नी के लापता होने का सनहा दर्ज कराया था. लापता होने के पूर्व टीचर ने अपने कमरे में एक सुसाइडल नोट छोड़ा था. इसके बाद पुलिस लापता टीचर की खोजबीन में जुट गई थी. बरकाकाना के घुटुवा स्थित सेंट्रल स्कूल भुरकुंडा में कुमारी अंकिता ने सात सितंबर को इंग्लिश टीचर के रूप में योगदान दिया था. पति खुद योगदान दिलाने रामगढ़ आए थे. वेद प्रकाश के अनुसार, जिस दिन अंकिता लापता हुई उस दिन शाम चार बजे उसकी बात उसके पिता से हुई थी. उनका भी कहना है कि अंकिता ने सामान्य बातचीत की थी

क्या है मामला

लापता होने के संबंध में अंकिता के पति वेद प्रकाश ने दर्ज सनहा में जानकारी दी कि उनकी पत्नी कुमारी अंकिता सेंट्रल स्कूल भुरकुंडा में कार्यरत है. वह रामगढ़ के गौशाला रोड(विकास नगर) स्थित फ्रेंड्स कॉलोनी में अखिलेश शर्मा के मकान में किराए पर रह रही थी. करीब 15 दिन पहले अंकिता की तबीयत खराब होने पर उसकी मां (अंकिता की सास) देखभाल के लिए जहानाबाद से यहां आकर रही. सात अक्टूबर को उसकी मां शाम चार बजे जहानाबाद के लिए निकलीं. उससे पहले करीब तीन बजे पत्नी अंकिता से उसकी फोन पर सामान्य बातचीत भी हुई थी. उसके बाद करीब छह बजे उसे फोन किया तो मोबाइल रिसीव नहीं हुआ. मकान मालिक से बात करने पर पता चला कि उसी दिन अंकिता शाम पांच बजे दरवाजा लॉक कर निकली है. रात दस बजे भी बात करने पर मकान मालिक ने बताया कि वह नहीं लौटी. इसके बाद अगले दिन आठ अक्टूबर को सुबह वह गुरुग्राम से रामगढ़ रवाना हुए. यहां आकर थाने में पहले मौखिक सूचना दी. थाने की अनुमति से रूम खोलने पर देखा कि अंकिता का मोबाइल व बैग घर में ही पड़ा था. एक सुसाइडल नोट भी वहां पड़ा था.

मेडिकल बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम

सदर अस्पताल में गठित तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड की टीम ने मृतका टीचर कुमारी अंकिता का पोस्टमार्टम किया. इस दौरान पूरे पोस्टमार्टम प्रॉसेस की वीडियोग्राफी भी हुई. बताया गया कि पोस्टमार्टम में प्रथम दृष्टया मृतका के पेट पर अत्यधिक पानी भरा हुआ पाया गया है. पोस्टमार्टम के बाद शाम को परिजनों ने उसके शव का अंतिम संस्कार स्थानीय दामोदर नदी गांधी घाट पर कर दिया.

कोट-------------

प्रथम दृष्टया टीचर अंकिता की आत्महत्या की बात प्रतीत हो रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों की पुष्टि हो पाएगी. फिलहाल पुलिस हर ¨बदु पर इसकी जांच-पड़ताल कर रही है.

-प्रभात कुमार, एसपी रामगढ़.