पटना (ब्यूरो)। मोकामा के विधायक अनंत सिंह से शुक्रवार को पंडारक थाने की पुलिस ने भोला और मुकेश की हत्या की साजिश के मामले में पूछताछ की। इससे पहले अनंत सिंह को केंद्रीय कारा बेउर से पटना महिला थाने में पूछताछ के लिए लाया गया। पंडारक थाना कांड संख्या 75/19 में दो दिनों की रिमांड पर ले जाने से पहले अनंत सिंह का मेडिकल चेकअप जेल प्रशासन द्वारा किया गया। बीपी, शुगर सहित अन्य चीजें सामान्य रहने के बाद उन्हें रिमांड पर भेजा गया।

अधिकांश जवाब नहीं में दिया

पूछताछ के दौरान अनंत सिंह से पूछा गया कि वारदात को अंजाम देने के लिए एके 47 कहां से लाई गई थी। पंडारक में दबोचे गए तीनों शूटरों से उनके क्या संबंध हैं। वे उन्हें कितने दिनों से जानते हैं। उनके फ्लैट में किसका आना जाना लगा रहता था। यह भी पूछा गया कि इस षडयंत्र में कितने लोग शामिल थे। भोला की हत्या क्यों कराना चाहते थे। अनंत सिंह ने पुलिस के अधिकांश सवालों का जबाव 'नहीं' में दिया। सूत्रों की मानें तो शूटरों के साथ संबंध पर उन्होंने कहा कि वह उन्हें नहीं जानते। एके 47 राइफल की बरामदगी पर कहा कि उनके पास न तो कोई 47 है और न ही एके 56 राइफल। उन्हें फंसा दिया गया है। ज्ञात हो कि वायरल ऑडियो में उनकी आवाज होने की पुष्टि हुई है।

गिरफ्तार बदमाशों ने लिया अनंत का नाम

पहले भी अनंत सिंह को उनके पैतृक घर से एके 47 और ग्रेनेड की बरामदगी मामले में दो दिनों की रिमांड पर लेकर महिला थाने में ही पूछताछ हुई थी। 14 जुलाई को बाढ़ अनुमंडल के पंडारक थाना क्षेत्र से तीन बदमाशों को पुलिस ने हथियार के साथ धर दबोचा था। इनमें पटना के बुद्धा कॉलोनी थानांतर्गत चकारम निवासी गोलू कुमार, दुजरा निवासी मो। छोटू और मैनपुरा निवासी छोटू उर्फ  राजवीर शामिल था। पुलिस को इनके पास से लोडेड पिस्तौल मिली थी। सूत्रों के अनुसार, पूछताछ में इन्होंने बताया था कि मोकामा विधायक अनंत सिंह के इशारे पर भोला सिंह और उसके भाई मुकेश की हत्या करने की साजिश रची गई थी।

ऑडियो क्लिप के अलावा कई और सुराग

वारदात को अंजाम देने के लिए जहानाबाद निवासी विकास सिंह ने इन्हें यहां भेजा था। अनंत सिंह के करीबी विकास सिंह और लल्लू मुखिया लगातार इनसे संपर्क कर रहे थे। लल्लू मुखिया और उसके भाई रणवीर यादव, पंडारक निवासी उदय यादव पर हत्या करने के बाद शूटरों को फरार करने में मदद की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। पुलिस ने उनके पास आधा दर्जन मोबाइल बरामद किए थे। इसमें ऑडियो क्लिप के अलावा कई और सुराग हाथ लगे थे। इसके बाद पुलिस ने पंडारक थाने में अनंत सिंह, लल्लू मुखिया और उसके भाई रणवीर यादव, विकास सिंह, उदय यादव सहित अन्य के खिलाफ कांड संख्या -75/19 दर्ज किया था।

patna@inext.co.in

Posted By: Inextlive

Crime News inextlive from Crime News Desk

inext-banner
inext-banner