- वेस्ट बंगाल के बिजनेस मैन और नेता की सुपारी किलिंग में वांछित था

- शातिर हिट लिस्ट में वेस्ट बंगाल के कई बड़े नाम शामिल थे

- डेढ़ साल से वेस्ट बंगाल पुलिस के लिए बना था चुनौती

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW : वेस्ट बंगाल के मोस्टवांटेड अपराधी को हजरतगंज और साइबर सेल पुलिस ने शहर के दारुलशफा के पास से अरेस्ट किया है. कोलकाता पुलिस करीब डेढ़ साल से शातिर को तलाश रही थी. उसके ऊपर सुपारी लेकर एक बिजनेसमैन और एक नेता की हत्या का आरोप है. शातिर की हिट लिस्ट में कई बड़े नाम शामिल थे. उसके ऊपर वेस्ट बंगाल में हत्या और रंगदारी के डेढ़ दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं.

लखनऊ को बनाया था ठिकाना

पश्चिम बंगाल के हुगली मुंगेरा बास बेरिया निवासी मोहम्मद मुख्तार उर्फ धनुआ पिछले डेढ़ साल से वांछित चल रहा था. उसके ऊपर दर्जनों हत्या, रंगदारी और नकली नोट के कारोबार करने के आरोप में केस दर्ज हैं. धनुआ हरियाणा, दिल्ली के बाद लखनऊ में आकर छिपा हुआ था. लखनऊ में मेट्रो के कुछ वर्कर उसके गांव के रहने वाले हैं और उन्हीं वर्करों के साथ वह यहां रह रहा था.

अकेले ही करता था वारदात

वेस्ट बंगाल पुलिस के अनुसार पकड़ा गया मो. मुख्तार ने डेढ़ साल पहले उसने वेस्ट बंगाल के एक बिजनेसमैन और एक नेता की हत्या की थी. धनुआ बहुत शातिर किस्म का अपराधी है और वह अकेले ही हत्या की वारदात को अंजाम देता था. लखनऊ में उसकी गिरफ्तारी के बाद बंगाल पुलिस ने उसे मुंगेरा स्थित आवास पर छापेमारी की तो वहां से उन्हें आधा दर्जन बम भी मिले हैं.