- 24 घंटों की भीतर पुलिस ने तीन हत्याओं का किया खुलासा

- दैनिक जागरण आईनेक्स्ट न्यूज पब्लिश होने के बाद हरकत में आई पुलिस

फोटो

बरेली : डिस्ट्रिक्ट में हो रही ताबड़तोड़ हत्याओं और कई मामलों का खुलासा न होने से बरेलियंस दशहत में हैं। हत्याओं के बढ़ते ग्राफ को लेकर दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने 'दो सालों में हुई 132 हत्याएं, कई मामले अब भी अनसुलझे' न्यूज पब्लिश की, जिसके बाद से पुलिस में आई। क्राइम कंट्रोल करने को लेकर महकमे पर उठ रहे सवालों से बचने के लिए पुलिस ने हाल ही में हुई तीन हत्याओं का खुलासा करते हुए हत्यारों को जेल भेज दिया।

पहला खुलासा

साइकिल से टकराने पर की छात्र की हत्या

फरीदपुर के गोसाईगंज निवासी साहिल (13) सातवीं का स्टूडेंट था। वह कस्बे के एक टेलर की दुकान में भी काम करता था। सैटरडे की रात वह शॉप से घर की तरफ साइकिल से जा रहा था। रास्ते में मिर्धान मोहल्ला निवासी शुभम और उसके दोस्त वाहिद की साइकिल साहिल से टकरा गई। जब साहिल ने विरोध किया तब दोनो ने उसकी पिटाई कर दी। चिल्लाने पर साहिल की गला घोंटकर हत्या कर दी थी और उसका शव सेंट मैरी स्कूल के पास झाडि़यों में फेंक दिया। हत्यारे उसका मोबाइल भी साथ ले गए। पास लगे सीसीटीवी कैमरे में दोनों हत्यारों की तस्वीरें कैद हो गई थीं। एसएसपी शैलेश पाण्डेय ने बताया कि शुभम हत्या के मामले में पहले भी जेल जा चुका है। पुलिस को उनके पास से साहिल का टूटा हुआ मोबाइल फोन मिला है।

दूसरा खुलासा

स्मार्ट फोन की चाहत में दोस्तों ने नजीब को मारा

देवरनियां के बाजार मोहल्ला रिछा निवासी नजीब (14) क्लास 9 का स्टूडेंट था। मंडे को उसके दो दोस्तों ने कॉल कर उसे बुलाया था। उसके दोस्त भी नौवीं के स्टूडेंट हैं। जिस वजह से नजीब दोस्तों के घर नोटबुक लेने की बात मां से बोलकर गया था। दरअसल नजीब के पास स्मार्टफोन था। उसके दोस्त का स्मार्टफोन छीनना चाहते थे। जब नजीब दोस्तों के पास पहुंचा। तब उन्होंने नजीब से मोबाइल फोन छीन लिया था। विरोध करने पर आरोपियों ने लोहे की रॉड से पीटकर उसकी हत्या कर दी। फिर उसकी लाश को शारदा नहर किनारे धान के खेत में फेंक दिया था। एसएसपी ने बताया कि सर्विलांस की मदद से पुलिस ने दोनों हत्यारोपियों को पकड़ लिया है। दोनों ही नाबालिग है। इसलिए उन्हें बाल सुधार गृह भेज दिया है।

तीसरा खुलासा

कारोबारी को लुटने आए थे कर्मचारी

प्रेमनगर के त्रिवटीनाथ कॉलोनी निवासी सिद्धार्थ रोहतगी सीमेंट कारोबारी था। ट्यूजडे को उसकी दुकान में काम करने वाले राहुल और सुमित जोशी ने उसकी हत्या कर दी थी। जिसके बाद हत्यारोपी शॉप से चालीस हजार कैश लूटकर भाग निकले थे। एसएसपी ने बताया कि आरोपी प्लानिंग के तहत लूट की वारदात को अंजाम देने आए थे। सर्विलांस की मदद से पुलिस ने हत्यारोपियों को इज्जतनगर बैरियर नंबर एक से पकड़ लिया।

--------------

रिटायर्ड फौजी बना शराब तस्कर

वेडनेसडे को फतेहगंज पश्चिमी पुलिस ने चेकिंग के दौरान एएनए कॉलेज मोड़ पर शराब तस्करों को पकड़ लिया। तस्करों के पास 145 पेटी अवैध शराब मिली है। एसएसपी ने बताया कि तस्कर हरियाणा से लखनऊ शराब ले जा रहे थे। पकड़े गए दुष्यंत कुमार, अतुल गर्ग, पंकज कुमार और राजकुमार हैं। सभी आरोपी मेरठ के रहने वाले हैं। जिसमें दुष्यंत कुमार रिटायर्ड फौजी है। पुलिस को एक मिलिट्री आईडी कार्ड और 40 हजार कैश मिला है। पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर तस्करों को जेल भेज दिया है।

बॉक्स

जिले में लागू हुई धारा 144

बरेली : त्योहारों पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए डीएम के आदेश पर डिस्ट्रिक्ट में धारा 144 लागू कर दी गई है। आगामी दिनों में उर्स-ए-रिजवी, धनतेरस, दीपावली, भईया दूज को ध्यान में रखते हुए जिले में धारा 144 लागू की गई है। असामाजिक तत्व, जिले में माहौल बिगाड़ने की कोशिश न करें। यह आदेश पांच दिसंबर तक लागू रहेगा। उल्लंघन करने पर खुराफातियों पर फौरन कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner