गुरुवाणी के प्रचार-प्रसार की बात सुनकर खुश है सिख समुदाय

काशी में आकर धन्य हो गया जीवन

varanasi@inext.co.in

VARANASI : काशी की संस्कृति और सभ्यता से प्रवासी भारतीय काफी प्रभावित हैं. गंगा आरती, नौका विहार, घाटों का अलौकिक दृश्य, काशी विश्वनाथ का दर्शन, सारनाथ की पावन स्थली को नमन करके अपना जीवन धन्य मान रहे हैं. उनके मन में काशी में बसने की इच्छा हिलोरे मार रही हैं. कई प्रवासी भारतीयों ने दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से फिलिंग शेयर की.

पेशे से आर्टिस्ट हैं सीमा गौतम

साउथ अफ्रीका के बोसवाना की रहने वाली सीमा गौतम पेशे से आर्टिस्ट हैं. मोदी जी के विजन और स्पीच से काफी प्रभावित हैं. इनकी इच्छा बनारस में पेंटिंग प्रदर्शनी लगाने की है. बहुत जल्द इसकी योजना बनाएंगी. कहती हैं कि गंगा घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर जाकर बहुत अच्छा लगा. सीमा के बेटे स्पर्श गौतम भी बनारस में आकर काफी खुश हैं. वह कहते हैं कि टेंट सिटी की व्यवस्था और यहां लोगों का व्यवहार दिल को छू गया.

भारत में जो बदलाव दिख रहा है, सब मोदी की देन

यूएसए में रहने वाले प्रकाश सिंह चौधरी अपनी पत्नी कश्मीरा के साथ आए हैं. वह कहते हैं कि ओवर आल सब कुछ अच्छा है. भारत में जो बदलाव दिख रहा है, सब मोदी की देन है. मेरी वाइफ के पांव में प्रॉब्लम हो गयी. टेंट सिटी में मौजूद डाक्टरों ने बेहतर इजाल किया. उनकी पत्नी कश्मीरा कहती हैं कि एयरपोर्ट से लेकर टेंट सिटी तक अच्छी व्यवस्था रही. अफसरों ने अच्छा कॉपरेट किया. जैसे लगा कि अपने लोगों के बीच में ही हूं.

बनारस काफी साफ-सुथरा शहर

यूएसए में रहने वाले रेखी सिंह कहते हैं कि अभी मैं बनारस घूम कर आ रहा हूं. बहुत ही अच्छा शहर है. गंगा घाट से आने का मन नहीं कर रहा था. काशी विश्वनाथ का दर्शन करके लगा कि मेरा जीवन धन्य हो गया. मंदिर में अच्छी अनुभूति हुई, जिसे मैं बयां नहीं कर पा रहा हूं. उनकी बेटी समिता सिंह कहती हैं कि बनारस काफी साफ-सुथरा शहर है. यहां लोग भी बहुत अच्छे हैं. गंगा घाट और मंदिर में शांति के साथ काफी सुकून मिला.

मोदी जी और काशी दोनों ने दिल जीत लिया

अमेरिका में रहने वाले प्रो. क्रिश गिरीश कहते हैं कि मोदी जी और काशी दोनों ने दिल जीत लिया. पीएम का विजन काबिले तारीफ है. मैं चाहूंगा कि ऐसा व्यक्ति भारत का नेतृत्व हमेशा करे. देश की बढ़ती साख से हम लोग भी गौरवान्ति महसूस करते हैं. उनकी पत्नी कहती हैं कि भारत आकर अच्छा लगा है. यहां के पारम्परिक पहनावे से काफी इम्प्रेस हूं.

सिख समुदाय को खुश कर दिया

थाइलैंड में लम्बे समय से रह रहे सुरेंद सिंह मनचंदा कहते हैं कि मोदी जी सभी धर्मो का ख्याल रहते हैं. गुरुवाणी के प्रचार-प्रसार पर जोर देकर उन्होंने सिख समुदाय को खुश कर दिया. मैं होटल कारोबारी हूं. सब कुछ अच्छा रहा तो मैं बनारस होटल जरूर शुरू करूंगा.