Navratri 2020 Day 4 Maa Kushmanda Puja Aarti: नवरात्रि में हर दिन मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। प्रथम दिन मां शैलपुत्रि को, द्वतीय दिन मां ब्रह्मचारिणी को, तृतीय दिवस माता चंद्रघंटा को विधि- विधान से पूजने के बाद चौथे दिन माता कूष्माण्डा की अर्चना की जाती है। दुर्गा मां के इस चौथे रूप की किस विधि से पूजा करें वो आप पर प्रसन्न हों। इसके साथ ही जानें उन्हें क्या भोग लगाएं व किस आरती से प्रसन्न करें।

Chaitra Navratri 3030 Day 4 Maa Kushmanda Puja : चैत्र नवरात्रि 25 मार्च से प्रारंभ हो गई है। प्रथम दिन से लेकर नवमी तक मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा अर्चना की जाती है। नवरात्रि के पहले दिन माता शैलपुत्री की पूजा की जाती है। दूसरे दिन मां ब्रह्माचारिणी को पूजा जाता है। वहीं तीसरा दिन माता चंद्रघंटा को होता है। इसके साथ ही चौथे दिन मां दुर्गा के रुप कूष्माण्डा को पूजते हैं। उनके इस स्वरुप की किस विधि पूजा करें व कौन सा भोग लगाएं, यहां जानें। उनकी आराधना के वक्त करें विशेष आरती तो उत्तम फल प्राप्त होंगे।चौथे दिन मां को मालपुए का भोग लगाकर मन्दिर में ब्राह्यणों को दान देने से बुद्धि का विकास होता है एवं निर्णय शक्ति बढ़ती है।

मां कूष्माण्डा की आरती

चौथा जब नवरात्र हो, कुष्मांडा को ध्याते।

जिसने रचा ब्रह्माण्ड यह, पूजन है

आध्शक्ति कहते जिन्हें, अष्टभुजी है रूप।

इस शक्ति के तेज से कहीं छाव कही धुप॥

कुम्हड़े की बलि करती है तांत्रिक से स्वीकार।

पेठे से भी रीज्ती सात्विक करे विचार॥

Navratri 2020 Durga Aarti: नवरात्र में माता के हर रूप को अलग-अलग आरती से करें प्रसन्‍न

क्रोधित जब हो जाए यह उल्टा करे व्यवहार।

उसको रखती दूर माँ, पीड़ा देती अपार॥

सूर्य चन्द्र की रौशनी यह जग में फैलाए।

शरणागत की मैं आया तू ही राह दिखाए॥

नवरात्रि में मां दुर्गा के अचूक मंत्र, जो आपको बनाएंगे निरोगी और धनवान

नवरात्रों की माँ कृपा करदो माँ।

नवरात्रों की माँ कृपा करदो माँ॥

जय माँ कुष्मांडा मैया।

जय माँ कुष्मांडा मैया॥

Posted By: Vandana Sharma

inext-banner
inext-banner