कानपुर। भारत की आजादी में विशेष भूमिका निभाने वाली आजाद हिन्द फौज (आईएनए) राजपथ पर होने वाली गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होगी। आजादी के 70 से अधिक सालों बाद आजाद हिन्द फौज को पहली बार यह माैका मिला है। इसके चार पूर्व सैनिक गणतंत्र दिवस की परेड में भारतीय सेना के रणबांकुरों के साथ दिखायी देंगे। खबरों की मानें इन सैनिकों की उम्र 95 से 100 साल के बीच की है।  

गणतंत्र दिवस परेड : पहली बार शामिल होगी आजाद हिन्द फौज आैर होगा नारी शक्ति का प्रदर्शन,जानें आैर क्या होगा खास

अदम्य नारी शक्ति का प्रदर्शन होगा

चीफ ऑफ स्टाफ (हेडक्वार्टर दिल्ली एरिया) मेजर जनरल राजपाल पुनिया ने बताया कि इस बार परेड में राजपथ पर अदम्य नारी शक्ति का प्रदर्शन होगा। कहा जा रहा है कि इस परेड में अब तक महिलाओं की सबसे बड़ी भागीदारी होगी। असम राइफल की एक पूर्ण महिला टुकड़ी के अलावा, नौसेना, सेना सेवा कोर की टुकड़ियों और कोर ऑफ सिंगल्स की इकाई अगुवाई महिला अधिकारी ही करेंगी।

गणतंत्र दिवस परेड : पहली बार शामिल होगी आजाद हिन्द फौज आैर होगा नारी शक्ति का प्रदर्शन,जानें आैर क्या होगा खास

इन मिसाइलों का भी प्रदर्शन होगा

इसके अलावा अमेरिका से खरीदी गई एम-777 अल्ट्रा लाइट हावित्जर तोप और देश में ही बनाई गई के-9 वज्र तोप भी पहली बार राजपथ पर सेना में अपनी ताकत का प्रदर्शन करेंगी। डीआरडीओ द्वारा बनाई जाने वाली मध्यम दूरी की सतह से हवा में निशाना साधने वाली मिसाइलों का भी प्रदर्शन होगा। राजपथ पर होने वाली गणतंत्र दिवस परेड के लिए इन दिनों रिहर्सल हो रही है। कल भी फुल ड्रेस रिहर्सल की गर्इ।

पीएम ने किया सुभाष चंद्र बोस म्यूजियम का उद्धाटन, जानें लाल किले के इन तीन नए संग्रहालयों में क्या है खास

National News inextlive from India News Desk