क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : अगली बार जब भी आप कुछ काम के लिए नगर निगम जाएंगे तो सीढि़यां चढ़ने में पसीना नहीं छूटेगा, चूंकि नई बिल्डिंग में चार चमचमाते लिफ्ट आपका इंतजार कर रहे हैं. जहां बटन दबाते ही कुछ सेकेंड में आप ग्राउंड फ्लोर से टॉप फ्लोर में पहुंच जाएंगे. वहीं काम कराने के दौरान आपको जहां-तहां भटकते हुए इंतजार नहीं करना होगा. इसके लिए वहां 200 कुर्सियां भी लगाई गई हैं. जी हां, हम बात कर रहे है रांची नगर निगम की नई बिल्डिंग की, जहां आने वाले लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं झेलनी होगी. वहीं अलग-अलग डिपार्टमेंट होने से उनका काम भी तत्काल हो सकेगा. अगले महीने से रांची नगर निगम अपने नए भवन में शिफ्ट हो जाएगा.

15 अक्टूबर से नए भवन में

शहर की सरकार अगले महीने से नए भवन में बैठेगी. जहां एक ही छत के नीचे मेयर से लेकर तमाम अधिकारी बैठेंगे. वहीं बिल्डिंग में पार्षदों के बैठने के लिए अलग व्यवस्था होगी. इस नई व्यवस्था के बाद लोगों के कई प्रॉब्लम्स हल होंगे. चूंकि नये भवन में हर डिपार्टमेंट का अलग काउंटर होगा, इससे लोग निगम से जुड़ा अपना हर काम आसानी से करा सकेंगे. जबकि वर्तमान के नगर निगम ऑफिस में एक ही कमरे में कई विभाग चल रहे हैं. इससे लोगों को काम कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

हाईलाइट्स

तीन जुलाई 2017 को हुआ था शिलान्यास

41 करोड़ की आई है बिल्डिंग की लागत

सात फ्लोर का है नगर निगम का भवन

हर ब्रांच के लिए एक-एक सेपरेट रूम

मेयर और नगर आयुक्त का चैंबर नीचे होगा

स्टैंडिंग कमेटी, बोर्ड व पार्षदों के लिए कॉमन रूम

बिल्डिंग के बगल में होगा ग्रीनरी पार्क

कैंपस में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की सुविधा

फ्लोर पर जाने के लिए लिफ्ट व सीढि़यां

दो फ्लोर में है पार्किग की व्यवस्था

ढाई दर्जन कारों को किया जा सकेगा पार्क

200 बाइक के लिए है पार्किग में जगह

ग्राउंड फ्लोर पर अलग-अलग कियोस्क

आमलोगों के लिए एक स्वागत कक्ष

200 लोगों के बैठने के लिए वेटिंग रूम

कैंपस में हर किसी के लिए होगा कैफेटरिया

ये होते हैं नगर निगम में काम

बर्थ सर्टिफिकेट, डेथ सर्टिफिकेट,वाटर कनेक्शन, होल्डिंग टैक्स, बिल्डिंग मैप, वाटर टैंकर, शहर की सफाई, पीएमएवाई, सिटी बस सर्विस. बस टर्मिनल मैनेजमेंट.

वर्जन

15 अक्टूबर की डेट हम लोगों ने फाइनल की है. उस दिन से नगर निगम का संचालन नए भवन में होगा. जहां पर हर तरह की सुविधा लोगों को मिलेगी.

गिरिजा शंकर प्रसाद, अपर नगर आयुक्त, आरएमसी