-एमएमएमयूटी में स्पेशल डिग्री कोर्स, नेक्स्ट इयर से बीटेक आईटी और बीबीए की भी होगी शुरुआत

-गोरखपुर यूनिवर्सिटी में भी इंटीगे्रटेड लॉ की हुई शुरुआत, इंजीनियरिंग फैकेल्टी की कवायद भी तेज

GORAKHPUR: डीडीयू गोरखपुर यूनिवर्सिटी और मदन मोहन मालवीय यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी स्टूडेंट्स को बेहतर एजुकेशन प्रोवाइड कराने के लिए कमर कस चुके हैं. सीएम सिटी होने की वजह से इस ओर उनकी खास तवज्जो भी है. यही वजह है कि दोनों ही यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स के लिए रोजगार की राह आसान करने में जुट गई है. जहां यूनिवर्सिटी ने इंजीनियरिंग और इंटीग्रेटेड लॉ शुरू करके स्टूडेंट्स को कम समय में बेहतर ऑप्शन दिया है. वहीं, एमएमएमयूटी में एमएससी फिजिक्स विद स्पेशलाइजेशन की इस साल शुरुआत हुई है, जबकि बीटेक आईटी, एमएससी मैथ्स विद स्पेशलाइजेशन के साथ ही बीबीए नेक्स्ट सेशन से शुरू हो जाएगा.

इंटीग्रेटेड लॉ में बचेगा वक्त

गोरखपुर यूनिवर्सिटी में शुरू हुए इंटीग्रेटेड लॉ से स्टूडेंट्स का काफी वक्त बचेगा. जहां ग्रेजुएशन करने में स्टूडेंट्स को तीन साल लग जाते हैं, वहीं एलएलबी के लिए भी उन्हें तीन साल बर्बाद करने पड़ते हैं. मगर इंटीग्रेटेड लॉ कोर्स शुरू हो जाने से स्टूडेंट्स पास साल में ही बीए-एलएलबी की डिग्री हासिल कर लेंगे और उनका एक साल का वक्त बचेगा. वहीं, सबकुछ ठीक रहा और सारी प्रॉसेस टाइमली कंप्लीट हो गई, तो नेक्स्ट सेशन से यूनिवर्सिटी में भी इंजीनियरिंग का ऑप्शन मिलने लगेगा. इससे स्टूडेंट्स को शहर छोड़कर बाहर नहीं जाना पड़ेगा और उनके काफी पैसे भी बचेंगे.

एमएमएमयूटी से डबल एक्सपर्ट

एमएमएमयूटी भी स्टूडेंट्स को बेहतर सुविधा मुहैया कराने की तैयारियों में जुटा है. जहां यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स को अपग्रेड करने के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज से करार कर उन्हें पढ़ाई और रिसर्च के लिए फॉरेन भेजा जा रहा है. वहीं पिछले सेशन से एमएससी फिजिक्स का स्पेशल डिग्री कोर्स स्टूडेंट्स के लिए काफी फायदेमंद साबित हो रहा है. इसकी खास बात यह है कि इसमें स्टूडेंट्स को जो डिग्री मिलेगी, वह एमएससी फिजिक्स विद स्पेशलाइजेशन इन इलेक्ट्रॉनिक्स होगी. जो इंजीनियरिंग और साइंस ग्रेजुएट की डुअल डिग्री की तरह है. वहीं नेक्स्ट सेशन से एमएससी मैथ्स विद स्पेशलाइजेशन इन कंप्यूटिंग, बीबीए और बीटेक आईटी के कोर्स की भी शुरूआत हो जाएगी, जिससे काफी हद तक स्टूडेंट्स का पलायन रुकेगा और उन्हें यही रोजगार की राह मिल जाएगी.

हाईलाइट्स -

इनसे मिलेगा फायदा -

गोरखपुर यूनिवर्सिटी

- इंटीग्रेटेड लॉ

- इंजीनियरिंग

एमएमएमयूटी

- बीटेक आईटी

- एमएससी मैथ्स

- बीबीए

- एमएससी, फिजिक्स

गोरखपुर यूनिवर्सिटी में इंटीग्रेटेड लॉ की शुरुआत हो चुकी है, इसके फाइनल एडमिशन भी चल रहे हैं. वहीं सब कुछ ठीक रहा, तो जल्द ही इंजीनियरिंग भी शुरू हो जाएगी, जिससे स्टूडेंट्स को कहीं बाहर नहीं जाना पड़ेगा.

- प्रो. अजय कुमार शुक्ल, पीआरओ, गोरखपुर यूनिवर्सिटी

एमएमएमयूटी में डिग्री विद स्पेशलाइजेशन कोर्स शुरू किया गया है. इसके तहत लास्ट इयर फिजिक्स विद स्पेशलाइजेशन इन इलेक्ट्रॉनिक्स की शुरुआत हुई है. इस सेशन से बीटेक आईटी, एमएससी मैथ्स विद स्पेशलाइजेशन इन कंप्यूटिंग और बीबीए कोर्स भी शुरू हो रहे हैं.

- प्रो. दया शंकर सिंह, यूआरओ, एमएमएमयूटी