बजट के बावजूद 9 माह से नहीं हो सके विकास कार्य

शहर में विकास कार्यो के नाम पर हो रही खानापूर्ति

9 माह से अधर में गलियों और खंड़जों का निर्माण

Meerut. शहर में विकास के लिए फरवरी माह में अवस्थापना निधि से लाखों का बजट वार्डो को बांटा गया, लेकिन बजट के अनुसार अभी तक विकास कार्य अधर में है. 9 माह से अधिक समय बीतने के बाद अवस्थापना निधि से प्रस्तावित गली व खंड़जों का काम अभी तक पूरा नही हो सका है, जिस कारण से स्थानीय लोगों की परेशानी लगातार बढ़ रही है. हालांकि 9 माह बीतने के बाद अब कई वार्डो में तेजी से काम कराया जा रहा है, लेकिन काम के नाम पर खानापूर्ति अधिक हो रही है.

करोड़ों का बजट

निगम ने फरवरी माह में 14वें वित्त आयोग के तहत कमिश्नर के नेतृत्व में अवस्थापना निधि की बैठक हुई थी. शहर के नालों की बाउंड्री वॉल और नालियों के लिए बजट स्वीकृत किया गया था. हालांकि जून-जुलाई में प्रस्तावित काम अभी नवंबर माह तक पूरे नही हो सके हैं. कई काम तो गत माह से शुरु हुए हैं और कई वार्ड में अभी काम शुरु भी नही हो सके हैं. इनमें सरस्वती लोक, जागृति विहार, राजवंश विहार, लक्खीपुर, ऊंचा सदीदक नगर, मोहनपुरी, लिसाड़ीगेट, शास्त्रीनगर, ईश्वरपुरी कई ऐसे मोहल्लें है जिनमें अभी तक काम शुरु भी नही हो सका है.

हमारे वार्ड में काम शुरु तो किया गया है, लेकिन गलत तरीके से किया जा रहा है. वार्ड में सीवर लाइन इतनी नीचे दबा दी गई कि पानी निकासी नही हो पा रही है वहीं अभी जागृति विहार और राजवंश विहार में रोड का निर्माण भी शुरु नही हो सका है.

रविंद्र, वार्ड 18- जागृति विहार, राजवंश विहार

हमारे वार्ड में मोतीप्रयाग कालोनी के अंदर तो काम पूरा हो गया है लेकिन अभी बाहर की तरफ का काम होना बाकी है.

अजय भारती, वार्ड 13- मोतीप्रयाग

मेरे वार्ड में नूर मस्जिद की गली में इंटरलाकिंग टाइल्स का काम प्रस्तावित है, जो कि अभी तक शुरु नही हो सका है. जबकि इसका बजट भी स्वीकृत है

नवाब, पार्षद पति, वार्ड 90- सदीदक नगर

हमारे वार्ड में अवस्थापना निधि से अधिकतम काम पूरा हो चुका है, केवल कुछ गलियों में रोड साइड टाइल्स लगाने का काम अधूरा है. वह भी जल्द पूरा होगा

नरेंद्र राष्ट्रवादी, पार्षद पति, वार्ड 26, शास्त्रीनगर

Posted By: Inextlive