डोनर्स खुद खरीदकर पी रहे जूस
ब्लड बैंक में हर दिन ब्लड डोनेट करने के लिए 50 से अधिक लोग आते हैं. ऐसे में कई ब्लड डोनर्स को तो ग्लूकोज और बिस्किट भी नहीं दिया जाता. इस बीच वे खुद से जूस मंगवा कर पी रहे हैं. वहीं कुछ डोनर्स खुद से मंगाकर रसगुल्ला खा रहे हैं, ताकि ब्लड डोनेट करने के बाद उन्हें कमजोरी न फील हो.

डोनर्स को दिया था टेट्रा पैक्ड जूस
रिम्स ब्लड बैंक राजधानी का इकलौता बैंक है, जहां से राजधानी के सभी हास्पिटलों में ब्लड की डिमांड पूरी होती है. ऐसे में ब्लड के बदले ब्लड दिया जाता है. इस चक्कर में लोगों को डोनेट करने के लिए आना पड़ता है. जहां पहले तो डोनर्स को खून देने के बाद जूस का टेट्रा पैक दिया जाता था. लेकिन कुछ दिनों से डोनर्स को बिस्किट और ग्लूकोज घोलकर दिया जा रहा है.

क्या कहते हैं ब्लड डोनर्स
ब्लड डोनेट करने के बाद भी यहां कुछ नहीं दिया जाता है. अब खून देने के बाद थोड़ी कमजोरी लग रही है. बाहर से जूस मंगवा कर पी रहे हैं. हम लोगों को यह भी नहीं पता कि यहां पर रिफ्रेशमेंट दिया जाता है.
मुकेश

खून देने के बाद कमजोरी तो लगती है. हमलोग तो बाहर से रसगुल्ला मंगाकर खा रहे, ताकि खून बने. यहां पर तो कुछ पता ही नहीं चल पाता. खून देने के बाद कुछ देर बैठाया और फिर बाहर निकलने को कह दिया.
समीर