RANCHI: रांची में जनता क‌र्फ्यू के दूसरे दिन सोमवार को शहर में लॉकडाउन के प्रति आम लोग लापरवाह नजर आए। सरकार व प्रशासन के आदेश की खूब अनदेखी हुई। प्रशासन का इसपर कोई नियंत्रण नज़र नहीं आया। आम दिनों की तुलना में दोगुनी भीड़ सड़क पर नजर आ रही है। बस, ऑटो, निजी वाहन पैदल चलने वालों की संख्या आम दिनों की तुलना में ज्यादा दिखाई दे रही। शहर की ट्रैफिक आम दिनों की तुलना में ज्यादा जाम है। हर तरफ भागदौड़ की स्थिति है। राशन दुकान, किराना दुकान, दूध, फल, सब्जी सहित हर दुकानों में लूटमार जैसी स्थिति बनती दिखाई दे रही। लोगों में यह जागरूकता के तक नहीं की अनिवार्य सेवा आम लोगों के लिए बहाल रहेगी.सुबह से ही भीड़

सोमवार की सुबह से ही लोगों की भीड़ सड़कों पर नजर आ रही थी। जनता क‌र्फ्यू के दूसरे दिन लॉकडाउन के बावजूद सोमवार को परिवहन पर जबरदस्त लापरवाही दिखाई दी। किसी भी सड़क पर इक्के-दुक्के ऑटो व बस अगर दिखाई दे रही, तो उसमें लोग कूद पड़ रहे। साठ से सत्तर यात्रियों की क्षमता वाली बसें पर 200 से ज्यादा यात्री सवार दिखाई दिए। ऑटो पर लटककर एक जगह से दूसरे गंतव्य स्थल तक पहुंच रहे। यह नजारा शहर के अमूमन हर कोने का है। शहर से कांटा टोली चौक, लालपुर चौक कचहरी चौक रातू रोड न्यू मार्केट चौक, पिस्का मोड़, हरमू रोड सहित सभी जगहों पर बेधड़क ऑटो का परिचालन होता रहा.न वायरस का खौफ, न सतर्कता

शहरवासियों में कोरोना वायरस का ना खौफ नजर आ रहा ना बचाव के उपाय ना ही सतर्कता। शहर की सड़कों पर तैनात ट्रैफिक पुलिसकर्मी लोगों को रोककर हिदायत दे रहे थे, लेकिन इसका कोई खास असर नहीं दिखा। पुलिस के वायरलेस सेट पर भी लोगों को वापस भेजने निर्देश लगातार दिया जा रहा था।

प्रशासन की चेतावनी

आम लोगों की अनदेखी पर पुलिस प्रशासन लगातार लाउडस्पीकर पर अनाउंसमेंट कर लोगों को चेतावनी दे रही थी। दुकानें बंद कराई जा रही थी। राहगीरों को सड़क से वापस भेजा जा रहा था। पुलिस लोगों से कह रही थी कि नहीं माने तो एक्शन होगा। प्रशासन यह हिदायत दे चुकी है की सीधा से नहीं माने तो पुलिस प्रावधानों के मुताबिक कार्रवाई भी कर सकती है।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner