- सफाई और टैक्स से जुड़ी समस्या के लिए वीमेन को नहीं लगाने होंगे निगम के चक्कर, खुलेगी महिला हेल्प डेस्क

- मेयर खुद करेंगी हर शिकायत की मॉनीटरिंग, शिकायतकर्ताओं से करेंगी संवाद

abhishekmishra@inext.co.in

LUCKNOW: नगर निगम से जुड़ी समस्या को दर्ज कराने के लिए महिलाओं को निगम मुख्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे. उनकी सुविधा के लिए हर जोनल कार्यालय में महिला हेल्प डेस्क खोली जाएगी. जहां महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगी. खास बात यह है कि इस हेल्प डेस्क में आने वाली हर शिकायत की मेयर खुद मॉनीटरिंग करेंगी. साथ ही शिकायतकर्ताओं से सीधे संवाद भी किया जाएगा.

इसलिए पड़ी जरूरत

मेयर की ओर से महिलाओं को बेहतर सुविधा देने के लिए इस कदम की प्लानिंग की गई है. दरअसल, ज्यादातर महिलाएं निगम से जुड़ी शिकायत दर्ज कराने के लिए न तो सीधे लालबाग स्थित मुख्यालय जा पाती हैं न ही जोनल कार्यालय, जिससे उनकी शिकायत दूर नहीं हो पाती है. इस समस्या को दूर करने के लिए ही महिला हेल्प डेस्क संबंधी कदम उठाया गया है.

हर शिकायत की मॉनीटरिंग

महिला हेल्प डेस्क में आने वाली हर शिकायत की हर स्तर पर मॉनीटरिंग की जाएगी. पहले जिस डिपार्टमेंट से जुड़ी शिकायत होगी, उसके विभागाध्यक्ष के पास उसे भेजा जाएगा. इसके बाद फाइनल स्टेटस रिपोर्ट मेयर के पास जाएगी. अगर शिकायत निस्तारित नहीं होती है तो मेयर पहले विभागाध्यक्ष फिर शिकायतकर्ता से बात करेंगी. वहीं अगर शिकायत दूर हो जाती है तो मेयर की ओर से शिकायतकर्ता महिला से सीधे संपर्क कर उन्हें अपडेट दिया जाएगा, जिससे उनके मन में कोई कंफ्यूजन न रहे.

24 से 48 घंटे का समय

सफाई, टैक्स, स्ट्रीट लाइट आदि शिकायतों के निस्तारण करने के लिए 24 से 48 घंटे तक का समय निर्धारित किया गया है. अगर कोई ऐसी शिकायत आती है, जिसमें जांच की जरूरत है तो उस स्थिति में जल्द जांच पूरी कर मेयर के पास रिपोर्ट भेजी जाएगी.

बॉक्स

मौके पर जाएगी टीम

मेयर की ओर से एक और सुविधा देने की तैयारी की जा रही है. अगर कोई महिला बुजुर्ग है तो उसकी शिकायत सुनने के लिए निगम की टीम खुद उसके पास जाएगी. इसका भी पूरा अपडेट मेयर के पास भेजा जाएगा.

वर्जन

महिलाओं को बेहतर सुविधाएं देने के लिए ही यह कदम उठाया जा रहा है. सभी जोनल कार्यालयों में महिला हेल्प डेस्क ओपन किए जाने की प्लानिंग की जा रही है.

संयुक्ता भाटिया, मेयर