क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: मंगलवार को उस समय दर्शकों, प्रशंसकों व क्रिकेट प्रेमियों को निराशा हुई जब जेएससीए स्टेडियम का टिकट काउंटर सुबह देर से खुला और महज आधे घंटे में ही बंद भी हो गया. ऐसे में टिकट के लिए लाइन में लगे लोगों ने हंगामा कर दिया. काउंटर बंद होने के बारे में जब जेएससीए प्रबंधन से पूछा गया तो कहा गया कि सारे टिकटों की बिक्री हो चुकी है. इसलिए काउंटर बंद कर दिया गया है.

बिहार से भी आए थे टिकट लेने

टिकट काउंटर के जल्दी बंद करने को लेकर राजधानी सहित बाहर से आए लोगों में काफी रोष देखा गया. इसको लेकर लोगों ने जेएससीए प्रबंधन के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए बताया कि यह कहीं ना कहीं प्रबंधन की लापरवाही है. टिकट लेने के लिए बिहार से भी बहुत सारे दर्शक आए थे.

लाइन लगे लोगों का हंगामा

टिकट लेने आए लोगों का कहना है कि सुबह से हम लोग लाइन में खड़े हैं. उसके बावजूद टिकट काउंटर जल्दी बंद कर दिया गया. इस कारण हम लोग लंबे समय इंतजार करने के बाद भी टिकट नहीं ले पाए. जबकि सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक काउंटर खुलने का समय तय था. उसके बावजूद भी मंगलवार को काउंटर काफी लेट खुला और उसके बाद काउंटर खोलने के आधे घंटे बाद ही टिकट बिक्री बंद कर दी गई. नाराज लोगों ने काउंटर गेट पर काफी हंगामा किया. इसके बाद सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों ने गुस्साए लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया.

कैपासिटी 50 हजार, टिकट बिके मात्र 15 हजार

8 मार्च को होनेवाले इंडिया व ऑस्ट्रेलिया के बीच वन डे मैच को लेकर स्टेडियम की कैपासिटी लगभग 50 हजार है और सोमवार तक लगभग 15 हजार टिकट ही बिके. वहीं, मंगलवार को मात्र आधे घंटे में ही टिकट काउंटर बंद कर देने से लोगों में काफी आक्रोश देखने को मिला.

रोड किनारे भी सीसीटीवी, उड़ेगा ड्रोन

मैदान के बाहर सड़कों के किनारे-किनारे सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे, ताकि मैदान की चारों ओर से निगरानी हो सके. बाहर की गतिविधियों के लिए मैदान में प्रवेश करते समय वीडियो ग्राफी के लिए ड्रोन का भी उपयोग किया जाएगा. पुलिस ने मैच के दौरान पार्किंग की अलग-अलग व्यवस्था की है. इस संबंध में एसएसपी अनीश गुप्ता ने बताया कि यदि जरूरत पड़ी तो अन्य जिलों की पुलिस फोर्स को भी बुलाया जाएगा है. जेएससीए स्टेडियम में प्रतिनियुक्ति की लिस्ट तैयार की जा रही है.

सिटी एसपी व हटिया डीएसपी संभालेंगे मोर्चा

मैच के दिन की पूरी सुरक्षा व्यवस्था का भार सिटी एसपी समेत कई पुलिस अधिकारियों की है. पुलिस अधिकारियों ने पूर्व में हुए मैच के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का अध्ययन किया है. डीआईजी भी पूरी तरह से खिलाडि़यों की सुरक्षा समेत सभी वीवीआईपी की सुरक्षा के लिए गंभीर हैं.

बैरिकेडिंग की तैयारी में रांची पुलिस

अंतराष्ट्रीय मैच को लेकर रांची पुलिस सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने में जुट गई है. कौन खिलाड़ी के साथ कौन पुलिस अधिकारी रहेंगे. स्टेडियम से होटल तक खुले कई कटों को बंद करने, यातायात नियमों का बोर्ड लगाने से लेकर तमाम तरह के सुरक्षा के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं. रांची पुलिस को बाहर से आने वाले वीवीआईपी की सूची भी उपलब्ध करा दी गई है. मैच के शुरू होने से लेकर अंत तक रांची जोनल एडीजी के अंतर्गत सुरक्षा का भार आता है. सुरक्षा के मद्देनजर रांची पुलिस सभी लोगों का डेटा अपने पास सुरक्षित रखने का इंतजाम की है, जिनका नाम लिस्ट में है.