नई दिल्ली (एएनआई)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को अमेरिका के पूर्व राजनयिक व हार्वर्ड केनेडी स्कूल के अंबेसडर निकोलस बर्न्स के साथ वर्चुअल बातचीत की। इस दाैरान उन्होंने सत्ता में बैठी भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाया कि इस सरकार ने संस्थाओं के ढांचे पर पूरी तरह से नियत्रंण कर लिया है। मीडिया पर पूरा कब्जा है। भाजपा के पास पूर्ण वित्तीय और मीडिया प्रभुत्व है। यही कारण है कि आज सिर्फ कांग्रेस ही नहीं बल्कि बीएसपी, एनसीपी, एसपी, बीएसपी जैसी कोई भी पार्टी चुनाव जीतने की स्थिति में नहीं हैं।

चुनाव लड़ने के लिए इन चीजों की जरूरत

मुझे संस्थागत संरचनाओं की आवश्यकता है। एक न्यायिक प्रणाली की आवश्यकता है जो मेरी रक्षा करे। मुझे एक ऐसी मीडिया की जरूरत है जो यथोचित रूप से स्वतंत्र हो। मुझे वित्तीय समता की आवश्यकता है। मुझे संरचनाओं का एक पूरा सेट चाहिए जो वास्तव में मुझे एक राजनीतिक पार्टी संचालित करने की अनुमति दें। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि जिन संस्थानों को निष्पक्ष राजनीतिक लड़ाई का समर्थन करना चाहिए, वे अब ऐसा नहीं करते हैं।

भाजपा उम्मीदवार की कार में ईवीएम मिली

इस दाैरान राहुल गांधी ने असम में सामने आए ईवीएम मामले को उठाया। बता दें कि चुनाव आयोग ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आने के बाद चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया, जो असम में दूसरे दौर के मतदान के बाद पत्थरकंडी निर्वाचन क्षेत्र में एक भाजपा उम्मीदवार की कार में ईवीएम दिखाते हुए दिखाई दिए।

National News inextlive from India News Desk