यूपीपीएससी ने 03 साल के लिए किया डिबार
allahabad@inext.co.inALLAHABAD: उत्तर प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीपीएससी) की सम्मिलित अवर अभियंता (सामान्य चयन) परीक्षा 2013 के अभ्यर्थी सुरजीत सिंह पुत्र केशव सिंह को तीन साल के लिए डिबार कर दिया गया है. आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि सुरजीत को 19 जनवरी 2018 से आयोग की सभी परीक्षा, साक्षात्कार और चयन से प्रतिवारित किया जाता है.

कांटैक्ट के लिए मो. नंबर भी लिखा
सुरजीत को तीन साल के लिए डिबार करने समेत परीक्षा से अभ्यर्थन भी निरस्त कर दिया गया है. दरअसल, सुरजीत की कॉपियों के मूल्यांकन में पाया गया कि उसने एक-एक हजार रुपए की नोट चस्पा की थी. ये नोट कृषि अभियांत्रिकी प्रथम एवं द्वितीय और हिंदी विषय की उत्तर पुस्तिकाओं में चस्पा किए गए थे. इसके अलावा उसने अपनी पुस्तिकाओं पर मोबाइल नंबर भी लिखा था. परीक्षा नियंत्रक ने सुरजीत का अंतिम ज्ञात पता ग्राम हविलिया पोस्ट कमेत जिला इटावा बताया है. हालांकि, दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट ने उक्त नम्बर पर सम्पर्क किया तो संबंधित व्यक्ति ने सुरजीत का मोबाइल नम्बर होने से इंकार किया. मोबाइल से सम्पर्क करने पर बताया कि वह बिजनौर से रामकुमार बोल रहा है. उसकी फोटो स्टेट की दुकान है.

भर्ती परीक्षा का ब्यौरा

-यूपीपीएससी द्वारा वर्ष 2013 की राज्य अभियंत्रण सेवा भर्ती की लिखित परीक्षा अप्रैल 2016 में करवाई गई थी.

-वहीं अवर अभियंता 2013 की लिखित परीक्षा मई 2016 में करवाई गई थी.

जेई परीक्षा के अभ्यर्थी सुरजीत को डिबार कर दिया गया है. उसका कृत्य कदाचार की श्रेणी में आता है. एई का परीक्षा परिणाम जून के अंतिम सप्ताह तथा जेई का अगस्त तक घोषित किया जाएगा.

-जगदीश, सचिव यूपीपीएससी