- सीबीएसई ने क्वारंटाइन पीरियड को प्रोडक्टिव बनाने के लिए टीचर्स को दिए निर्देश

LUCKNOW :

लॉकडाउन के दौरान सीबीएसई ने सभी स्कूलों को प्रोडक्टिव बनने के लिए कहा है। सीबीएसई ने शिक्षकों को पूरे सेशन की प्लानिंग, एनरीचमेंट एक्टिविटी, टीचर एनरीचमेंट एक्टिविटी पर काम करने का सुझाव दिया है। उनसे विषय से संबंधित लेक्चर वीडियो यू-ट्यूब या स्कूल की वेबसाइट पर अपलोड करने को कहा है। वहीं व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर इन वीडियो को स्टूडेंट्स तक पहुंचाने की योजना भी बनाई है। टीचर ऑनलाइन फॉर्मेटिव असेस्मेंट और सेल्फ असेस्मेंट गतिविधियों से भी स्टूडेंट्स को जोड़ेंगे।

खुद को ऐसे अपडेट करें टीचर

सीबीएसई ने शिक्षकों को भी अपडेट करने को कहा है। शिक्षक किताब पढ़कर, स्वयं व अन्य ऑनलाइन ट्रेनिंग प्रोग्राम में हिस्सा लेकर, ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर वीडियो या डॉक्यूमेंट्री देखकर इसे ब्लॉग में लिखकर साझा कर सकते हैं। इस तरह की गतिविधियों से वे अपनी तैयारी भी बेहतर कर सकते हैं।

स्टूडेंट्स के लिए शुरू होंगी एक्टिविटीज

- रीडिंग स्किल विकसित करने के लिए रीडिंग मैटेरियल भेजेंगे

- प्रेरणाप्रद गीत, कहानी व लघु फिल्म साझा करेंगे

- वर्चुअल फील्ड टिन और वर्चुअल ट्रेजर हंट में करेंगे शामिल

- आइसोलेशन के प्रति करेंगे जागरूक

- स्टडी टाइम टेबल और सेल्फ लर्निग तकनीकी साझा करेंगे

- ऑनलाइन डिस्कशन फोरम बनाएंगे

- सोमवार से शुक्रवार सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक शिक्षकों से संपर्क का मौमा

सीबीएसई ने सभी शिक्षकों को अपने सब्जेक्ट के अनुसार ट्यूटोरियल या लेक्चर वीडियो बनाकर ऑनलाइन मीडियम में अपलोड करने को कहा है।

जावेद आलम खान, सिटी कोऑडिनेटर, सीबीएसई

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner