-प्रवासी भारतीय दिवस के दूसरे दिन एनआरआई को पीएम ने किया सम्बोधित

-कहा विकास के सभी दरवाजों तक पहुंचकर दिखाया

-मारिशस के पीएम ने कहा अद्भुत है भारत

varanasi@inext.co.in

VARANASI : हर प्रवासी भारत का ब्रांड एम्बेसडर है. देश की संस्कृति, सभ्यता के साथ ही उसकी वास्तविक तस्वीर दुनिया के सामने रखता है. भारत के विकास में प्रवासी अहम भूमिका निभा सकते हैं. 15वें प्रवासी भारतीय दिवस पर मंगलवार को अपने ससंदीय क्षेत्र काशी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासियों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि जिन्हें लगता था कि भारत बदल नहीं सकता हमने उनकी सोच को ही बदल डाला. सबका साथ सबका विकास के विजन पर चलते हुए भारत ने पिछले साढ़े चार वर्षो में डेवलपमेंट के सभी द्वार तक पहुंचकर दिखाया. आज का युवा डिजिटल इंडिया के सपनों को साकार करते हुए मेक इन इंडिया के जरिए मोबाइल फोन, बस, कार, ट्रेन बना रहा है तो खेल के साथ-साथ खेतों में भी रिकार्ड तोड़ अन्न उत्पादन कर रहा है. देश की इकोनॉमी मजबूत हुई तो पर्यावरण के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र ने चैम्पियन ऑफ अर्थ का पुरस्कार दिया है. ऐसा भारत तैयार हुआ है जो पूरी दुनिया की अगुवाई कर सकता है. मंगलवार की सुबह दस बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत गवर्नर राम नाईक, सीएम योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय ने बुके देकर किया.

 

प्रवासियों को किया संबोधित

बड़ा लालपुर स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर स्टेडियम में आयोजित प्रवासी भारतीय दिवस दूसरे दिन के चीफ गेस्ट मारीशस के प्रधानमंत्री प्रविन्द्र जगन्नाथ के साथ पीएम मोदी ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया. अटल जी को समर्पित अटल सभागार में 75 देशों से आए करीब पांच हजार प्रवासियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बाबा विश्वनाथ व मां गंगा का आशीर्वाद आप सभी पर बना रहे, मेरी यही कामना है. आप सभी यहां अपने पूर्वजों की मिट्टी की तरफ से खिंचे चले आए हैं. आप सबका अभिनंदन है. दुनियाभर में बसे आप सभी भारतीयों से संवाद का अभियान हम सभी के प्रिय श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी ने 2003 में शुरू किया था. अटल जी के जाने के बाद पहला प्रवासी भारतीय सम्मेलन है. इस अवसर पर मैं अटल जी को भी श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं, उनकी इस विराट सोच के लिए नमन करता हूं. पुर्तगाल, त्रिनिदाद-टोबैगो और आयरलैंड जैसे अनेक देशों को भी ऐसे सक्षम लोगों का नेतृत्व मिला है जिनकी जड़ें भारत में हैं. आप सभी जिस देश में बसे हैं, वहां समाज के लगभग हर क्षेत्र में लीडरशिप के रोल में दिखते हैं.

 

'काशी में आके बहुत खुशी भईल'

पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए मारीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ ने कहा कि भारत सचमुच अद्भुत है. यह देश अपनी संस्कृति को बरकरार रखते हुए आधुनिकता की ओर बढ़ रहा है. डिजिटल इंडिया, मेक इन इंडिया, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, आयुष्मान योजना आदि कई ऐसी लाभप्रद योजनाएं हैं, जिसे मोदी सरकार ने शुरू कर इंडिया को ही नहीं बल्कि पूरे व‌र्ल्ड को एक प्लेटफार्म पर ला दिया है. पीएम प्रविंद जगन्नाथ ने कहा कि हम सभी के पास ऐसी सुविधाएं और रिसोर्सेज हैं जो अगर एक साथ आए जाएं तो इस दुनिया का हर देश तरक्की कर सकता है. इसके पूर्व प्रविंद्र जगन्नाथ ने जब भोजपुरी भाषा में कहा कि 'भारत के नाम रोशन होत हव अउर काशी नगरी में आयके बहुत खुशी भईल' इतना सुनते ही पूरा सभागार तालियों की गड़गड़ाहट में तब्दील हो गया. मंच से केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी प्रवासियों को संबोधित किया. इस दौरान दस प्रवासी प्रतिभागियों को पीएम मोदी ने सम्मानित भी किया. समारोह में गवर्नर राम नाइक, केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह, हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर, उत्तराखंड सीएम त्रिवेंद्र रावत, विदेश मंत्रालय के सचिव विजय गोखले, पीबीडी सचिव जगदीश्वर मुल्ले आदि रहे.

National News inextlive from India News Desk