-रूम में फांसी पर लटकता मिला शव, पीएचसी में थी नर्स

-सात महीने से ड्यूटी पर नहीं जा रही थी, नौकरी में दबाव बनाए जाने की आशंका

kanpur@inext.co.in

नौबस्ता में शनिवार को नर्स की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई. उसका शव रूम में फांसी पर लटकता मिला. उसके ससुर घर पहुंचे तो शव देखकर उनके होश उड़ गए. उन्होंने बेटे को जानकारी दी वो भागकर घर पहुंचा. सूचना पर पुलिस ने मौके पर जाकर शव को पोस्टमार्टम भेज दिया.

पीएचसी में थी नर्स

नौबस्ता के तात्याटोपे नगर में रहने वाले सुनील कुमार सचान टीचर है. उनकी डेढ़ साल पहले रायबरेली के लालाराम की बेटी मीनाक्षी (फ्ख्) से शादी हुई थी. उनके सात महीने की बेटी है. मीनाक्षी भीतरगांव में पीएचसी में नर्स थी. वो तात्याटोपे नगर में किराये पर रूम में रहकर जॉब करती थी. उसी दौरान उसकी मुलाकात सुनील से हुई और दोनों ने शादी कर ली. मीनाक्षी करीब छह महीने से छुट्टी पर थी. वो तीन दिन पहले ड्यूटी पर गई थी, लेकिन उसके बाद वो दोबारा ड्यूटी पर नहीं गई.

हादसे में टूट गया पैर

पिछले दिनों हादसे में सुनील का पैर टूट गया था. वो घर पर बेड रेस्ट कर रहे है. शनिवार को मीनाक्षी ने घर का सारा काम करने के बाद सुनील को दवा लेने के लिए मेडिकल स्टोर भेज दिया. सुनील के पिता पोती को लेकर पार्क में धूप सेक रहे थे. वो करीब एक घंटे बाद खाना खाने के लिए घर गए तो वहां पर मीनाक्षी का शव फांसी पर लटका था. उन्होंने सुनील को जानकारी दी वो घर पहुंचा. पुलिस ने मौके पर जाकर शव को पोस्टमार्टम भेज दिया. इधर, सुनील ने मीनाक्षी के साथियों को उसके सुसाइड करने की सूचना दी तो उसे पता चला कि मीनाक्षी तीन दिन पहले भी ड्यूटी पर नहीं गई थी, जबकि वो घर से ड्यूटी पर जाने की बात कहकर निकली थी. माना जा रहा है कि नौकरी के दबाव में उसने सुसाइड किया है. एसओ का कहना है कि अभी पुलिस पड़ताल कर रही है.