शहर के एक प्रतिष्ठित कान्वेंट स्कूल की छात्रा है पीडि़ता

छात्रा को लेकर भटकते रहे परिजन, सीमा विवाद में उलझी रही दो थानों की पुलिस

meerut@inext.co.in

MEERUT :  लिसाड़ी गेट क्षेत्र में छेड़छाड़ के विरोध पर कक्षा पांच की छात्रा को छुरी से गोदने के ताजा मामले के बाद बुधवार को एक और शर्मसार घटना सामने आई. बेगमपुल स्थित सरधना बस अड्डे पर निजी बस के परिचालक ने शहर के एक प्रतिष्ठित कान्वेंट स्कूल की छात्रा से अश्लीलता की. छात्रा के शोर मचाने पर लोगों ने बस परिचालक को दबोच लिया और उसकी जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया. सदर थाना पुलिस ने छेड़छाड़ व पाक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार क लिया है.

 

क्या है मामला

सरधना थाना क्षेत्र निवासी सात वर्षीय बच्ची शहर के एक प्रतिष्ठित कान्वेंट स्कूल में कक्षा दो की छात्रा है. वह रोजाना मेरठ-सरधना रूट पर चलने वाली प्राइवेट बस से स्कूल आती-जाती है. बुधवार दोपहर को छुट्टी के बाद घर जाने के लिए वह बेगमपुल स्थित सरधना बस अड्डे पर पहुंची. वहां, मेरठ-हर्रा रूट पर चलने वाली बस के परिचालक ने उसके साथ अश्लीलता शुरू कर दी. छेड़छाड़ करते हुए उसे अकेले में बुलाया और फिर जबरन हाथ पकड़कर खींचने लगा. इस पर छात्रा ने शोर मचा दिया. मौके पर मौजूद लोगों ने आरोपित परिचालक को दबोच लिया. आरोपित परिचालक की पहचान शामली के गांव लिसाड़ निवासी अनुज चौधरी पुत्र तेजपाल के रूप में हुई है.

 

ताऊ को फोन कर बुलाया

घटना के बाद बच्ची ने हिम्मत दिखाते हुए एक ठेले वाले के मोबाइल से अपने ताऊ को फोन कर दिया. मोदीपुरम निवासी ताऊ अन्य परिजनों के साथ थोड़ी ही देर में पहुंच गए. परिजन आरोपी को पकड़कर लालकुर्ती थाने ले गए. बच्ची खुद को थाने में असहज महसूस कर रही थी, लेकिन पुलिस ने घटना की जानकारी लेना तक मुनासिब नहीं समझा. करीब ढाई घंटे टालमटोल के बाद सदर बाजार पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को हिरासत में लिया.

 

आरोपी बस परिचालक के खिलाफ छेड़छाड़ व पाक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. गुरुवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा.

रणविजय सिंह, एसपी सिटी