नई दिल्ली (एएनआई)। 4 से 15 नवंबर तक दिवाली के बाद राष्ट्रीय राजधानी में वाहनों के लिए ऑड-ईवन योजना फिर से लागू की जाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को इस बात की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि प्रदूषण से निपटने के उद्देश्य से AAP सरकार यह योजना फिर से लागू करने जा रही है। पहली बार 2015 में इसे लागू की गई थी। केजरीवाल ने घोषणा करते हुए कहा कि आसपास के राज्यों में पराली जलाने के कारण निकलने वाला धुंआ दिल्ली में प्रदूषण का प्रमुख कारण है और यह दिल्ली सरकार के इस समस्या से निपटने के लिए कई उपायों में से एक है।

लोकसभा चुनाव 2019 : यूपी में आप के स्टार प्रचारकों में केजरीवाल नहीं

बढ़ गईं हैं स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं

केजरीवाल ने कहा, '2 और 3 नवंबर को शनिवार और रविवार होता है। 4 नवंबर से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन लागू रहेगा। अध्ययन बताते हैं कि यह प्रदूषण को 10-13 प्रतिशत तक कम कर देगा।' सीएम केजरीवाल ने कहा, 'दिल्ली में दिवाली पर पटाखे नहीं छोड़ने के लिए प्रेरित किया जाएगा। छोटी दिवाली पर एक बड़ा लेज़र शो आयोजित होगा। लोगों को प्रदूषण से बचने के लिए मास्क बांटे जाएंगे। दिल्ली में 12 स्थानों पर प्रदूषण अधिक है। इनके लिए अलग से प्लान बनेगा। पेड़ लगाने के लिए लोगों को प्रेरित किया जाएगा। दिल्ली में प्राइवेट बसों को प्रोत्साहित करने के लिए नीति लागू की जाएगी। इसके अलावा इलेक्ट्रिक वाहन नीति जल्द लागू होगी।' इस योजना के तहत ऑड व ईवन नंबर वाली कारें सड़कों पर अलग-अलग दिन चलेंगी। बता दें कि पिछले कुछ सालों से, राष्ट्रीय राजधानी हर सर्दियों में धुंध से जूझ रही है, जिससे स्वास्थ्य संबंधी चिंताएं बढ़ गईं हैं।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk