- एसीएस ओम प्रकाश व डॉ. रणबीर सिंह से महत्वपूर्ण विभाग हटाए गए

- प्रमुख सचिव मनीषा पंवार से महानिदेशक व आयुक्त उद्योग का प्रभार हटाया गया

- गढ़वाल कमिश्नर की जिम्मेदारी अब बीवीआरसी पुरुषोत्तम के पास

dehradun@inext.co.in

DEHRADUN: लोकसभा चुनाव से ठीक पहले प्रदेश सरकार ने कई सीनियर अधिकारियों की जिम्मेदारियों में फेरबदल किया है. अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश से एसीएस राज्य संपत्ति, कौशल विकास व सेवायोजन जैसे विभाग हटाए गए हैं. वहीं दूसरी ओर एसीएस डॉ. रणबीर सिंह से भी अपर मुख्य सचिव वन एवं पर्यावरण की जिम्मेदारी हटा दी गई है. बताया जा रहा है कि इन दोनों अधिकारियों से यह जिम्मेदारी संबंधित विभाग के मंत्री से सामंजस्य स्थापित न हो पाना कारण माना जा रहा है. वहीं, पूर्व चीफ सेक्रेटरी व राजस्व परिषद के अध्यक्ष एस रामास्वामी से वर्तमान पद हटाते हुए उन्हें अब नई जिम्मेदारी उत्तराखंड परिवहन निगम के अध्यक्ष की सौंपी गइर्1 है.

आनंदव‌र्द्धन को वन एवं पर्यावरण
प्रमुख सचिवों की कतार में प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग मनीषा पंवार से महानिदेशक व आयुक्त उद्योग का पदभार हटाया गया है. वहीं प्रमुख सचिव लघु सिंचाई, सिंचाई आनंदव‌र्द्धन से लघु सिंचाई, सिंचाई, खाद्य नागरिक आपूर्ति, सैनिक कल्याण व आयुक्त खाद्य नगारिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले की जिम्मेदारी हटा दी गई है. उसके स्थान पर उन्हें प्रमुख सचिव वन एवं पर्यावरण विभाग दिए गए हैं.

पुरुषोत्तम को गढ़वाल कमिश्नर का जिम्मा
सचिव विद्यालयी शिक्षा डॉ. भूपेंद्र कौर औलख से विद्यालयी शिक्षा(प्रारंभिक एवं माध्यमिक शिक्षा)वापस ले लिया गया है. जबकि उसके स्थान पर उन्हें सिंचाई व लघु सिंचाई का प्रभार सौंपा गया है. प्रभारी सचिव सुशील कुमार को आयुक्त खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले का जिम्मा दिया गया है. इधर, सचिव पशुपालन आर मीनाक्षी सुंदरम् को सचिव विद्यालयी शिक्षा दिया गया है. सचिव परिवहन, शहरी विकास शैलेश बगोली से गढ़वाल कमिश्नर की जिम्मेदारी वापस लेते हुए प्रतीक्षारत बीवीआरसी पुरुषोत्तम को गढ़वाल कमिश्नर का जिम्मा सौंपा गया है.

बीके संत से परिवहन वापस
सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण नितेश झा से कार्मिक एवं सतर्कता वापस लिया गया है. जबकि सचिव ग्रामीण अभियंत्रण सेवा, श्रम, प्रोटोकॉल हरबंस सिंह चुघ को सचिवालय प्रशासन से अवमुक्त किया गया है. राज्य संपत्ति की जिम्मेदारी सचिव वन एवं पर्यावरण अरविंद सिंह ह्यांकी को सौंपी गई है. प्रभारी सचिव डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा को पुनर्गठन, जनगणना के अलावा अब नए प्रभार के तौर पर कौशल विकास एवं सेवायोजन दिया गया है. प्रभारी सचिव इंदुधर बौड़ाई को संस्कृति शिक्षा, भाषा के अलावा अब सचिवालय प्रशासन दिया गया है. परिवहन निगम के एमडी, प्रभारी सचिव खनन बृजेश कुमार संत से एमडी परिवहन निगम वापस लेते हुए उन्हें महानिदेशक व आयुक्त उद्योग का जिम्मा सौंपा गया है. जबकि परिवहन निगम के एमडी की जिम्मेदारी अब डॉ. आर राजेश कुमार को सौंपी गई है. इधर, आबकारी आयुक्त दीपेंद्र कुमार चौधरी को एमडी उत्तराखंड शुगर फेडरेशन दिया गया है. भूपाल सिंह मनराल को प्रभारी सचिव शहरी कल्याण का प्रभार दिया गया है.

पीसीएस अधिकारियों के जिम्मेदारियों में बदलाव
अपर सवि सीएम, उद्यान डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट को अपर सचिव खनन की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है. सचिवालय सेवा के प्रदीप सिंह रावत से एमडी उत्तराखंड शुगर फेडरेशन का प्रभार वापस लिया गया है. उनके पास बाकी विभाग यथावत रहेंगे.