आगरा। अयोध्या प्रकरण पर फैसला आने की जानकारी मिलते ही पुलिस-प्रशासन अलर्ट हो गया था। शहर के हर हिस्से में फोर्स तैनात की गई। मिश्रित आबादी क्षेत्रों में अफसरों ने फोर्स के साथ फ्लैग मार्च किया। लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की।

संवेदनशील क्षेत्रों में विशेष सजगता

फैसला सुबह 10.30 बजे आना था, लेकिन पुलिस ने शुक्रवार रात से ही शहर को अपने घेरे में ले लिया था। संवेदनशील क्षेत्रों में विशेष सतर्कता बरती गई। सुबह जब लोग घरों से बाहर निकले तो सड़कों और क्षेत्रों में फोर्स तैनात मिला।

करीब 11 बजे के बाद फैसला आने पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस फोर्स ने फ्लैग मार्च किया। फ्लैग मार्च मिश्रित आबादी वाले क्षेत्र से गुजरा।

लखनऊ दी जा रही अपडेट

अधिकारी क्षेत्रों में होने वाली गतिविधियों की पल-पल की खबर ले रहे थे। राजधानी लखनऊ में बैठे आला अफसरों को भी इसकी अपडेट पहुंचाई जा रही थी।

शांति व्यवस्था और कानून के पालन के लिए हम सतर्क हैं। किसी को भी कानून के साथ खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। ऐसा करने वालों के साथ सख्ती के साथ निपटा जाएगा। मेरी सभी से अपील है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुए शांति व्यवस्था बनाए रखें।

एनजी रवि कुमार

डीएम

शहर में पुलिस फोर्स के साथ अधिकारी मुस्तैद रहे। मिश्रित आबादी क्षेत्रों में फ्लैग मार्च निकाला गया। किसी भी क्षेत्र से अप्रिय घटना की कोई सूचना नहीं मिली है। शांत व्यवस्था कायम है।

बबलू कुमार

एसएसपी

शहर में छह अतिसंवेदनशील स्थानों का चयन किया गया है। जहां एक दरोगा और छह सिपाहियों की मुस्तैदी रखी गई है। शांति व्यवस्था के लिए रविवार को भी फ्लैग मार्च किया जाएगा।

रोहन प्रमोद बोत्रे, एसपी सिटी

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner