नई दिल्ली (पीटीआई)। नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का संसद सत्र 17 जून, सोमवार को शुरू हो गया है। वहीं कल यानी कि बुधवार को लोकसभा स्पीकर के पद के लिए चुनाव होना है। सूत्रों की मानें तो एनडीए भाजपा सांसद ओम बिरला को लोकसभा स्पीकर के पद के लिए उम्मीदवार के रूप में उतार रही है क्योंकि मंगलवार को नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

विपक्ष ने अब तक नहीं उतारा है कोई उम्मीदवार

विपक्ष ने अभी तक इस पद के लिए किसी उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है। उम्मीद है कि अगर ओम बिरला को इस पद के लिए नामित किया जाता है तो वह आसानी से लोकसभा स्पीकर बन जाएंगे क्योंकि सदन में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के पास स्पष्ट बहुमत है। 57 साल के बिरला तीन बार राजस्थान से विधायक और दो बार सांसद रह चुके हैं। ओम बिरला लोकसभा चुनाव में दूसरी बार कोटा-बूंदी संसदीय सीट जीतकर संसद पहुंचे है।
17वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू : केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन समेत इन चार ने ली संस्कृत में शपथ
जब पहली बार और दूसरी बार बने सांसद चुने गए

आमतौर पर लोकसभा स्पीकर के पद के लिए वरिष्ठता देखी जाती है, लेकिन ऐसे उदाहरण सामने आए हैं जब पहली बार और दूसरी बार बने सांसद चुने गए।
शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी मनोहर जोशी को 2002 में लोकसभा स्पीकर के रूप में चुना गया था। तब पहली बार सांसद बने थे। वहीं इनसे पहले दूसरी बार सांसद चुने गए जीएमसी बालयोगी लोकसभा स्पीकर चुने गए थे। जीएमसी बालयोगी वह एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए।

National News inextlive from India News Desk