अमावस्या की शनि जयंती पर श्रद्धालुओं ने पीपल के पेड़ की परिक्रमा की, जलाये दीपक

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: ज्येष्ठ अमावस्या पर शनि जयंती का पर्व आस्था और श्रद्धा के साथ मनाया गया. श्रद्धालुओं ने अपने कष्टों को दूर करने और साढ़े साती से मुक्त होने के लिए शनि देव का पूजन अर्चन किया. शनि देव को प्रसन्न करने के लिए धागा बांधकर पीपल के पेड़ की परिक्रमा की गई और शनिदेव का तेल से अभिषेक किया गया. शनि देव का पूजन अर्चन करने के लिए सुबह से ही पीपल के पेड़ के नीचे श्रद्धालुओं की भीड़ रही तो चारों ओर ओउम शनिश्चराय नम: का मंत्र गूंजता रहा.

अतरसुइया स्थित प्राचीन शनि पीठ में पर्व धूमधाम से मनाया गया. पीठ के आचार्य पराग जी महाराज की अगुवाई में शनि देव की प्रतिमा को पंचामृत से स्नान कराकर तेल से अभिषेक किया गया. काला तिल, काली उरद व शमी के टुकड़े से शनि देव का पूजन किया गया. शाम को परिसर में तेल का दीपक जलाया गया. दारागंज बक्शी बांध स्थित शनि धाम में देर शाम तक श्रद्धालुओं द्वारा तेल का दीपक जलाया गया और पेड़ की परिक्रमा की गई.