राफेल मुद्दे पर स्वास्थ्य मंत्री ने राहुल गांधी से पूछा, देश की सुरक्षा से खिलवाड़ क्यों किया?

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार को पत्रकार वार्ता कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और विपक्ष पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने राहुल गांधी से सात सवाल करते हुए पूछा कि उन्होंने देश की सुरक्षा से खिलवाड़ क्यों किया? नया स्लोगन देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 'कामदार ईमानदार है, नामदार चोर है'.

झूठ के पांव नहीं होते

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बहुत पुरानी कहावत है, जो मुंह उठाकर दूसरों पर थूकते हैं वह उन्हीं पर गिरती है. राफेल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और विपक्ष इस कहावत को भली भांति समझ सकते हैं. क्योंकि झूठ के पांव नहीं होते हैं, विजय हमेशा सत्य की होती है.

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की पीआईएल

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 36 काम्बैट एयरक्रॉफ्ट सलेक्ट किए गए थे, उसकी प्रक्रिया पर सवाल उठाया गया था. एयर प्राइसिंग और आफसेट पार्टनर के चयन पर सवाल उठाया गया था. सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल दाखिल किया गया था, जिसे खारिज कर दिया गया. राहुल गांधी ने झूठ क्यों बोला? देश की सुरक्षा से खिलवाड़ क्यों किया? इसका जवाब उन्हें देना चाहिए. पत्रकार वार्ता के दौरान क्षेत्रीय मंत्री कमलेश, नरेश कुंदरा, अशोक चौबे, संतोष तिवारी आदि मौजूद रहे.

सिद्धार्थनाथ सिंह के सात सवाल

1. केंद्र सरकार के चार साल के कार्यकाल में अन्य सरकारों की अपेक्षा कोई दाग नहीं था, क्या इसलिए केंद्र सरकार पर राफेल में गड़बड़ी का आरोप लगाया गया?

2- क्या कांग्रेस का डीएनए है स्टोरी फ्रिक्शन बनाने की?

3. यूपीए सरकार को 126 एयरक्राफ्ट लेने थे. 18, बन कर आने थे, बाकी देश के अंदर बनने थे. डील पूरी क्यों नहीं हुई. 27 जून 2012 को प्लान रीएग्जामिन के लिए क्यों भेजा.

4. क्या इसलिए सवाल उठाया गया कि डसाल्ट कंपनी से मिडिल मैन का सरकार ने कोई चयन नहीं किया था.

5. पीआईएल करने वाले लॉबिस्ट का संबंध किस फॉरेन लड़ाकू विमान बनाने वाली कंपनी से है.

6. राहुल गांधी जी, क्या सही मायने में आपको समझ नहीं आता है कि उत्पादन और मैन्यूफैक्चरिंग अलग होता है.

7. टेंडर प्रक्रिया और गवर्नमेंट टू गवर्नमेंट जो कांटै्रक्ट होता है, उसके बारे में क्या राहुल गांधी जी को जानकारी है, अगर है तो जवाब दें.