--रांची के खुदरा बाजार में मंगलवार को 100 से 110 रुपये किलो बिका प्याज, लोगों की परेशानी नहीं हो रही कम

--नासिक और अलवर की मंडियों में नहीं है प्याज की पर्याप्त उपलब्धता, एक महीने के बाद भी नहीं दिख रहे राहत आसार

फैक्ट फाइल

04 से पांच गाड़ी आवक घटी है एक सप्ताह में

13 गाड़ी कम हुई है आवक एक माह के भीतर

02 ट्रक माल ही पहुंच रहा पंडरा, अलवर से भी प्याज की आवक हुई कम

85 से 90 रुपये किलो रही प्याज की कीमत पंडरा की थोक मंडी में सोमवार को

55 से 65 रुपये थी रविवार को प्याज की कीमत थोक मंडी में

रांची : प्याज की कीमत अब सौ के पार चली गई है। पहले बाजार में 80 से 90 रुपये किलो तक प्याज मिल रहा था, लेकिन एक सप्ताह में इसकी कीमत में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। सेब, केला, अनार और दूसरे फलों के मुकाबले भी प्याज की कीमतों में जबरदस्त वृद्धि हुई है। जिले की सबसे बड़ी थोक मंडी पंडरा में ही थोक भाव में प्याज 85-90 रुपये प्रति किलो तक मिल रहा है। वहीं व्यापारियों का कहना है कि नासिक के किसानों के पास प्याज का स्टॉक खत्म होने को है। एक सप्ताह के भीतर पंडरा बाजार में प्याज की आवक घटकर आधी हो गई है। पंडरा बाजार में पहले 8-10 ट्रक प्याज की आवक थी। अब चार से पांच गाड़ी पर रह गई है। इसका असर प्याज की कीमतों पर भी दिखने लगा है। मंगलवार को रांची के नागाबाबा खटाल में 100 रुपये प्रतिकिलो की दर से प्याज की बिक्री हुई। वहीं, कडरू, हरमू व कई अन्य जगहों में फुटपाथ सब्जी विक्रेताओं के पास 110 रुपये किलो तक प्याज बिका।

बेंगुलुरु से भी आवक हुई है बंद

प्याज के थोक व्यापारियों का कहना है कि अभी सिर्फ नासिक से प्याज की आपूर्ति हो रही है। वहां भी स्टॉक खत्म है। बेंगलुरु से भी आवक बंद हो गई है। राजस्थान के अलवर से भी प्याज की आवक कम हो गई है। स्थानीय बाजारों से भी अभी प्याज नहीं मिल रहा। नई फसल आने के बाद ही पंडरा में आवक बढ़ सकेगी।

---------------

ऐसे चढ़ी कीमतें (प्रतिकिलो रुपये में)

रविवार 80

सोमवार 100

मंगलवार 110

Posted By: Inextlive

inext banner
inext banner