- निरंजनपुर में नासिक, अलवर व इंदौर के नए व पुराने प्याज के हिसाब से भी दाम तय

- थोक मंडी से 70 रुपए वाले प्याज की कीमत रिटेल में 80 से 100 रुपए तक

देहरादून,

प्याज के दाम आसमान पर हैं। होल सेल से लेकर रिटेल तक प्याज जितने रंगों में अवेलेबल है, उतने ही उसके रेट हैं। दून की सबसे बड़ी निरंजनपुर होल सेल सब्जी मंडी में 70 रुपए से प्याज के रेट शुरू हैं। 70 रुपए जो प्याज मंडी में होलसेल रेट पर अवेलेबल है, वह रिटेल में 100 रुपए किलो तक बिक रहा है।

कलर-क्वालिटी के बेस पर रेट्स में वेरिएशन

गली-मोहल्लों में फेरी लगाने वाले 100 रुपए किलो प्याज बेच रहे हैं। सस्ते प्याज के लिए लोग होलसेल मंडी पहुंच रहे हैं, लेकिन सब्जी मंडी में भी प्याज कई रेट में बेचा जा रहा है। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की टीम ने निरंजनपुर सब्जी मंडी में करीब एक दर्जन होलसेलर्स के पास प्याज के रेट्स की क्वेरी की तो प्याज के तीन से चार रेट मिले। प्याज कलर और क्वालिटी के बेस पर दाम ऊपर-नीचे हैं।

नासिक, अलवर व इंदौर का प्याज

दून में इस वक्त नासिक, अलवर और इंदौर से प्याज की सप्लाई आ रही है। इनमें भी नए और पुराने प्याज के रेट अलग-अलग हैं। अलग-अलग जगह से आने वाले प्याज की कीमतों में भी वेरिएशन है। रेट के वेरिएशन से कस्टमर कन्फ्यूज हो रहा है। कौन सा प्याज बेहतर और सस्ता है, इसकी उधेड़बुन में कस्टमर है। व्यापारी नासिक का नया प्याज, अलबर का पुराना प्याज व इंदौर का टेस्टी प्याज बता रहे हैं और उसी हिसाब से उनका रेट वसूल रहे हैं।

ग्रेडिंग से भी रेट में अंतर

बाहर से आने वाले प्याज के रेट ग्रेडिंग के बाद तय किए जाते हैं। ग्रेडिंग में 3 कैटेगरी का प्याज अलग-अलग किया जा रहा है। अव्वल दर्जे का प्याज सबसे महंगा, मध्यम दर्जे का थोड़ा सस्ता और निचले दर्जे का छोटा प्याज सबसे कम कीमत पर बेचा जा रहा है।

रिटेल में ऐसे बढ़ती है कीमत

- होलसेल और रिटेल में प्याज की कीमतों में 10 से 30 रुपए का फर्क।

- एक किलो प्याज कैरी करने का एक रुपए किराया।

- कैरी बैग के भी लिया जाता है एक रुपया।

- ठेली का किराया एक से दो रुपए, यह दूरी के हिसाब से ज्यादा भी हो सकता है।

- ठेली वाले की दिनभर की ध्याड़ी 5-10 रुपए प्रति किलो प्याज पर।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner